गुजरात में भी बारिश मुसीबत बनकर बरस रही है. गुजरात के अहमदाबाद, राजकोट, भरूच और नर्मदा जिले में मंगलवार सुबह जमकर बारिश हुई. नर्मदा इलाके में सरदार सरोवर बांध का जलस्तर काफी बढ़ गया है. भरूच, नर्मदा, वडोदरा जिलों में अलर्ट जारी किया गया है. भरूच में नर्मदा नदी के किनारे के 30 गांवों में भी अलर्ट जारी किया गया है.
    बारिश के चलते सरदार सरोवर बांध का जलस्तर काफी बढ़ गया हैमूसलाधार बारिश के बाद भरूच, नर्मदा, वडोदरा जिलों में अलर्ट

मध्य प्रदेश से लेकर गुजरात तक सितंबर के महीने में सैलाब का सितम जारी है. मध्य प्रदेश के करीब 32 जिलों में बाढ़ ने तबाही मचा रखी है. गांव से लेकर शहर तक बाढ़ की मार झेल रहे हैं. वहीं गुजरात में भी बारिश मुसीबत बनकर बरस रही है. गुजरात के अहमदाबाद, राजकोट, भरूच और नर्मदा जिले में मंगलवार सुबह जमकर बारिश हुई. नर्मदा इलाके में सरदार सरोवर बांध का जलस्तर काफी बढ़ गया है. भरूच, नर्मदा, वडोदरा जिलों में अलर्ट जारी किया गया है. भरूच में नर्मदा नदी के किनारे के 30 गांवों में भी अलर्ट जारी किया गया है.

इस बीच, गुजरात में भारी बारिश के कारण सरदार सरोवर बांध का जलस्तर 136 मीटर के पार पहुंचने के बाद प्रदेश सरकार ने नर्मदा नदी के किनारे बसे गांवों के लिए चेतावनी जारी की है. बांध में इससे पहले 2017 में जलस्तर 138 मीटर तक पहुंचा था. जलस्तर अभी 136.21 मीटर है और अधिकारियों ने इस बांध के 30 गेटों में से 23 गेट खोल दिए हैं.

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक सरदार सरोवर नर्मदा निगम लिमिटेड (एसएसएनएनएल) के नियंत्रण कक्ष ने सूचित किया कि बांध में 6.47 लाख क्यूसेक पानी आया जिसमें से 6.16 लाख क्यूसेक पानी को बांध के 30 में से 23 गेट खोल कर नदी में छोड़ा जा रहा है.
एसएसएनएनएल द्वारा रविवार रात जारी बाढ़ की चेतावनी में नर्मदा, वडोदरा और भरूच जिलों में नदी के किनारे रह रहे ग्रामीणों के साथ ही अधिकारियों से भी नदी में पानी के बहाव को लेकर सतर्क रहने को कहा गया है क्योंकि इसके तटबंध तोड़ने की आशंका बनी हुई है.

राज्य सरकार के बयान के मुताबिक सरदार सरोवर बांध में पानी लगभग 91 फीसद बढ़ चुका है. नर्मदा के जिला कलेक्टर आई के पटेल ने सोमवार को एक आदेश जारी कर जिले के अधिकारियों को सतर्क रहने और बारिश के कारण नदी का जलस्तर बढ़ने से किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए एहतियाती उपाय सुनिश्चित करने को कहा है. बयान के मुताबिक गुजरात में वार्षिक वर्षा औसत की 109.99 फीसद बारिश हो चुकी है. राज्य के 33 में से 22 जिलों में 100 फीसद बारिश हो चुकी है.