दिल्ली एयरपोर्ट पर पकड़े गए आरोपी युवक की पहचान 32 वर्षीय जयेश पटेल के रूप में हुई है. वह अहमदाबाद का रहने वाला है. पुलिस के मुताबिक वह न्यूयॉर्क जाकर अपनी जिंदगी बदलना चाहता था.
गुजरात के रहने वाले एक शातिर युवक ने अमेरिका जाने के लिए ऐसा प्लान बनाया कि दिल्ली एयरपोर्ट पर तैनात सुरक्षाकर्मी भी हैरान रह गए. दरअसल, शक होने पर सीआईएसएफ ने व्हीलचेयर पर जा रहे एक 81 साल के बुजुर्ग को रोककर पूछताछ की. और जब उसका सच सामने आया तो सबके होश उड़ गए.

दिल्ली एयरपोर्ट पर पकड़े गए आरोपी युवक की पहचान 32 वर्षीय जयेश पटेल के रूप में हुई है. वह अहमदाबाद का रहने वाला है. पुलिस के मुताबिक वह न्यूयॉर्क जाकर अपनी जिंदगी बदलना चाहता था. वह सब एशोआराम चाहता था. लेकिन उसे वीजा नहीं मिल रहा था. बस इसी बात से तंग आकर उसने एक साजिश रच डाली.

उसने 81 साल के बूढ़े का रूप बना लिया. गेटअप ऐसा कि देखने वाले पहचान न सकें. वह न्यू यॉर्क जाने की फिराक में था. उसने अपने बाल और दाढ़ी, मूछें सफेद रंग से रंग ली थी. खास बात यह कि उसने एजेंसी की आंखों में धूल झोंक कर क्लीयरेंस में ले लिया था.

लेकिन वो एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ (CISF) के जवानों की नजर से नहीं बच पाया. और पूछताछ में करने पर पकड़ा गया. असल में उस शातिर शख्स का नाम जयेश पटेल है. वह अहमदाबाद का रहने वाला है. वह 81 साल का बूढ़ा बनकर अमरीक सिंह के नाम से विदेश जा रहा था.

उसने सबकुछ इतने शातिराना तरीके से प्लान किया था कि सुरक्षाकर्मी सच सामने आने के बाद खुद हैरान थे. उसने खुद को बूढ़ा दिखाने के लिए जीरो नंबर का चश्मा भी पहन रखा था. वो व्हीलचेयर पर बैठकर आया था. ताकि किसी को शक न हो. उससे देर तक पूछताछ की गई.