राज्यपाल श्री लालजी टंडन से हिसार (हरियाणा) से आये विज्डम ऑफ माइंड संस्था के श्री जितेन्द्र कुमार ने आज राजभवन में भेंट की। श्री कुमार की बेटी रिया ने राज्यपाल के सामने आंख पर पट्टी बांधकर पढ़ने और चलने-फिरने की विधा का प्रदर्शन किया। श्री टंडन ने रिया के प्रदर्शन और संस्था की प्रयासों की सराहना की।

श्री लालजी टंडन ने अन्धत्व निवारण के क्षेत्र में विज्डम ऑफ माइन्ड विधा के उपयोग की सम्भावनाओं पर चर्चा की। श्री जितेन्द्र कुमार ने बताया कि ध्यान और योग विधा के सम्मि‍लित अभ्यास से मस्तिष्क को सक्षम बनाया जा सकता है। मानसिक इंद्रियों को जागृत कर बंद आंखों से भी देखा जा सकता है। इस विधा के अभ्यास से 500 से अधिक नेत्रहीनता से पीड़ित व्यक्ति बेहतर जीवन जीने में सक्षम हुए हैं। संस्था द्वारा इस विधा का नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाता है।