वाशिंगटन । अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को 20 प्रमुख मादक द्रव्य पारगमन या अवैध मादक द्रव्य उत्पादक देशों में शामिल किया है। विदेशमंत्री माइक पोम्पिओ को दिए एक परिपत्र में ट्रंप ने कहा कि इस सूची में किसी देश की मौजूदगी अनिवार्य रूप से उस देश की सरकार के मादक द्रव्य रोधी प्रयासों या अमेरिका के साथ सहयोग के स्तर को प्रदर्शित नहीं करती। इस सूची में अफगानिस्तान, बहामाज, बेलीज, बोलीविया,वर्मा, कोलंबिया, कोस्टारिका, डोमेनिकन रिपब्लिक, इक्वाडोर, अल सल्वाडोर, ग्वाटेमाला, हैती, होंडुरास, भारत,जमैका,लाओस, मेक्सिको, निकारागुआ, पाकिस्तान, पनामा, पेरू और वेनेजुएला शामिल हैं।ट्रंप ने कहा कि उनके प्रशासन ने अमेरिका में अवैध मादक द्रव्यों के खतरे से निपटने के लिये अभूतपूर्व संसाधन लगाए हैं जिनमें सीमाओं को मजबूत बनाना और अवैध ड्रग के इस्तेमाल को रोकना शामिल है।उन्होंने कहा,हम इस बड़े काम को अंजाम देने में लगातार प्रगति कर रहे हैं लेकिन अब भी काफी कुछ किया जाना बाकी है। उन्होंने कहा कि देश की सीमाओं से पार उन देशों में भी प्रयास किये जाने की जरूरत है जहां से खतरनाक अवैध मादक द्रव्यों का उत्पादन होता है। अमेरिका में नेशनल सेंटर फॉर हेल्थ स्टेटिस्टिक्स के आकलन के मुताबिक 2018 में देश में अत्यधिक मात्रा में ड्रग लेने के चलते 68,557 लोगों की जान गई।