मुंबई । सार्वज‎निक विमानन कंपनी एयर इंडिया कर्ज चुकाने के लिए बांड बेचकर 7 हजार करोड़ रुपए जुटाने पर ‎विचार कर रही है। जानकारी के अनुसार एयर इंडिया ऐसेट होल्डिंग्स लिमिटेड बॉन्ड इश्यू लाएगी, जो एक स्पेशल परपज वीइकल है। एयर इंडिया का 29,464 करोड़ रुपए का कर्ज इस कंपनी को ट्रांसफर किया जा रहा है। महंगे कर्ज को सस्ते कर्ज से बदलने पर एयर इंडिया में निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ सकती है। सरकार ने अक्टूबर से इसे बेचने की प्रक्रिया शुरू करने की योजना बनाई है। पिछली बार कर्ज सहित एयर इंडिया को सरकार ने बेचने की कोशिश की थी लेकिन तब उसे एक भी बोली नहीं मिली थी। एयर इंडिया पर कुल 55 हजार करोड़ का कर्ज है। होल्डिंग कंपनी को 29,464 करोड़ का कर्ज ट्रांसफर करने से बीमार एयरलाइन कंपनी की ब्याज देनदारी में 2,700 करोड़ रुपए की कमी आएगी। 7,000 करोड़ रुपए के इस इश्यू के साथ कंपनी की योजना दो बार में और 22 हजार करोड़ रुपए जुटाने की है। पहले सीरीज के बॉन्ड पर मूलधन के साथ ब्याज का भुगतान भी सरकार करेगी।