नई दिल्ली । अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) ने मंगलवार को 2018-19 साल के लिए अपने वार्षिक पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। इसमें राष्ट्रीय टीम के कप्तान सुनील छेत्री को साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष फुटबॉलर का अवार्ड दिया गया है। छेत्री ने छठी बार यह खिताब जीता है। वहीं महिलाओं में आशालता देवी को साल की सर्वश्रेष्ठ फुटबॉल खिलाड़ी बनी हैं। छेत्री ने इससे पहले 2007, 2011, 2013, 2014 और 2017 में भी यह अवॉर्ड हासिल किया था। वहीं छेत्री ने कहा, ‘इस अवार्ड का आईएसएल और आई-लीग के प्रशिक्षकों ने मिलकर चुना है, इसलिए यह अवॉर्ड मेरे लिए और भी अहम है। मैं अपने क्लब के साथियों, प्रशिक्षकों, साथी खिलाड़ियों और राष्ट्रीय टीम के स्टाफ का आभारी हूं।’ कुछ दिनों पहले छेत्री ने जिस युवा खिलाड़ी अब्दुल सहल की तारीफ की थी उसे एआईएफएफ ने साल के उभरते खिलाड़ी का इनाम दिया है। महिलाओं के वर्ग में यह पुरस्कार डेंगमेई ग्रेस को दिया गया है। वहीं सर्वश्रेष्ठ रेफरी का अवार्ड तमिलनाडु के आर. वेंकटेश को मिला है जबकि जोसेफ टोनी को सर्वश्रेष्ठ सहायक रेफरी का अवॉर्ड मिला है।