नई दिल्ली: भारत और न्यूजीलैंड की टीमें मंगलवार को आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (ICC World Cup 2019) में पहला सेमीफाइनल खेलने को तैयार हैं. यह मैच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड ग्राउंड पर खेला जाएगा. भारत और न्यूजीलैंड टूर्नामेंट में पहली बार भिड़ेंगे. इन दोनों टीमों के बीच लीग मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था. मैनचेस्टर में मंगलवार को भी बारिश के आसार हैं. लेकिन यह तय है कि अगर मैच नहीं भी हुआ तो भारत को नुकसान नहीं होगा.

इंग्लैंड और वेल्स में खेले जा रहे वर्ल्ड कप में बारिश से प्रभावित होने वाले मैचों के लिए नियम स्पष्ट हैं. लीग मैचों में बारिश के कारण रद्द होने वाले मैचों में दोनों टीमों के बीच एक-एक अंक बांटे गए. लेकिन सेमीफाइनल और फाइनल में ऐसा नहीं होगा. इन मैचों के लिए एक-एक रिजर्व डे भी रखे गए हैं. लेकिन तब क्या होगा, जब दोनों दिन मैच ना हो पाए. आईसीसी ने इसके लिए भी नियम तय कर रखे हैं. 

बता दें कि भारत और न्यूजीलैंड का मंगलवार को सेमीफाइनल मैनचेस्टर में खेला जाना है. मौसम विभाग के मुताबिक इस दिन बादल छाए रहेंगे. बारिश भी हो सकती है. लेकिन शायद इतनी बारिश ना हो कि मैच प्रभावित हो. हालांकि, आईसीसी के नियमों में स्पष्ट है कि अगर कोई सेमीफाइनल बारिश के कारण रद्द हुआ तो क्या होगा. इसे आप ऐसे समझ सकते हैं. 

1. अगर सेमीफाइनल मैच टाई हुआ तो दोनों टीमों के बीच सुपरओवर खेला जाएगा. विजेता टीम फाइनल खेलेगी. 
2. अगर बारिश के कारण निर्धारित दिन खेल नहीं हो सका तो यही मैच अगले दिन (रिजर्व डे) खेला जाएगा. 
3. अगर रिजर्व डे पर भी खेल नहीं हो सका, तब दोनों टीमों के बीच सुपरओवर होगा. 
4. अगर रिजर्व डे पर भी सुपरओवर नहीं हो सका तो लीग स्टेज में  ज्यादा अंक लाने वाली टीम फाइनल में प्रवेश करेगी. 

अब यहां बता दें कि भारत लीग स्टेज के बाद 15 अंकों के साथ पहले नंबर पर रहा है. जबकि, न्यूजीलैंड की टीम 11 अंकों के साथ चौथे नंबर पर रही थी. यानी, अगर बारिश या किसी अन्य कारण से मैच नहीं खेला जा सका तो भारत को फायदा होगा और वह फाइनल में प्रवेश कर जाएगा.