नई दिल्ली: संसद के मौजूदा सत्र के दौरान बीजेपी संसदीय दल की पहली बैठक हो रही है. ये बैठक संसद के लाइब्रेरी बिल्डिंग के जी.एम.सी बालयोगी सभागृह में चल रही है. बीजेपी संसदीय दल की पहली बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने आकाश विजयवर्गीय मामले को उठाया. इस मामले पर वह बेहद नाराज दिखाई दिए. पीएम मोदी ने दो टूक कहा कि ऐसे लोगों को पार्टी से बर्खास्त कर देना चाहिए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और इंदौर से बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के बैट से नगर निगम अधिकारी की बुरी तरह से पिटाई करने के मामले में पीएम मोदी ने कहा कि किसी का भी बेटा हो, ऐसा बर्ताव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. प्रधानमंत्री ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक में ये बातें कहीं.


पीएम मोदी ने कड़े लहजे में कहा कि बैठक में इंदौर की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि बेटा चाहे किसी को उसे कुछ भी करने का हक नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि मैं इसलिए खून पसीना नहीं बहा रहा हूं. किसी का बेटा होने पर मनमानी करने की छूट नहीं है. उन्होंने कहा कि भविष्य में ऐसा व्यवहार हर्गिज बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

 

आपको बता दें कि मारपीट के मामले में शनिवार को आकाश विजयवर्गीय को भोपाल की विशेष अदालत से जमानत मिली थी. इसके बाद वह रविवार को इंदौर जेल से रिहा हो गए. इस दौरान आकाश ने कहा था, 'मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि मुझे दोबारा बल्लेबाजी करने का अवसर न दे. अब गांधीजी के दिखाए रास्ते पर चलने की कोशिश करूंगा.'