बिलासपुर । लोक निर्माण, गृह, जेल, धर्मस्व, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने विभाग के अधिकारियों से कहा कि कार्य संस्कृति में बदलाव लायें और जनता के लिये काम करें न कि ठेकेदार के लिये। इस्टीमेट बनाने के बाद कार्य में देरी से लागत बढ़ती है तो इसके लिये जिम्मेदारी तय करनी होगी। मंथन सभाकक्ष में आयोजित बैठक में श्री साहू ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सख्त अनुशासन के साथ समयावधि में गुणवत्तापूर्ण कार्य सुनिश्चित करें। बरसात में जहां समस्या है उन मार्गों के अधूरे कार्य की जानकारी देने, साथ ही समयावधि में जो कार्य पूरे नहीं हुए हैं उन्हें भी चिन्हांकित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जितने भी सडक़ के कार्य चल रहे हैं वे समय पर पूरे हो जायें। विभाग के सब इंजीनियर और सहायक इंजीनियर दोनों ही अपने कार्य के प्रति जागरूक रहें और एक सिस्टम बनाकर कार्य करें। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि बार-बार निर्देश देने के बाद भी यदि उनके कार्यप्रणाली में सुधार नहीं होगा तो ऐसे अधिकारियों को बख्शा नहीं जायेगा। बैठक में श्री साहू ने कहा कि वन क्षेत्रों में जहां सडक़ निर्माण कार्य ठेकेदार नहीं कर पा रहे हैं, गांवों के अंदर के ऐसे एक-एक किलोमीटर के आंतरिक सडक़ निर्माण कार्य स्थानीय लोगों से कराये जायेंगे। उन्होंने कहा कि बजट में स्वीकृत सडक़ों के इस्टीमेट और टेंडर आदि की प्रक्रिया बरसात के पूर्व पूर्ण कर लें और बरसात के तत्काल बाद उनका कार्य प्रारंभ करें। आवागमन की दृष्टि से छोटे-छोटे सडक़ों की मरम्मत कराने का भी निर्देश दिया। श्री साहू ने निर्देशित किया कि अधूरे स्कूल भवन एवं ऐसे कार्य जो इस्टीमेट में है लेकिन पूरा नहीं हुआ तो इसकी वसूली संबंधित सब इंजीनियर से होनी चाहिये।  बैठक में पीडब्ल्यूडी के चीफ इंजीनियर के.के.मंधान ने जिले में चल रहे कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस वर्ष के बजट में सम्मिलित ८९ भवनों में ५१ भवनों की प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त है, जिसमें १६ पूर्ण हैं और १६ प्रगतिरत है। इसी तरह बजट में सम्मिलित ११३ सडक़ कार्य में ६० कार्यों की प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त है। जिनमें ४४ कार्य पूर्ण और ७ प्रगति पर है। बैठक के अंत में कलेक्टर डॉ.संजय अलंग द्वारा आभार व्यक्त किया गया। बैठक में बिलासपुर विधायक शैलेष पाण्डेय, तखतपुर विधायक श्रीमती रश्मि सिंह, ई एण्ड एम विभाग के एस.ई. श्री मण्डावी, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधीक्षण अभियंता श्री रावटे बिलासपुर डिवीजन क्रमांक १, २, पेण्ड्रारोड डिवीजन, सेतु संभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग के कार्यपालन अभियंता, विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।