इन्दौर । खजराना में ईदुल फित्र पर परम्परागत रूप से ईदगाह तक इमाम साहब को घोड़े पर बिठाकर लाया गया। ईद की नमाज़ बाद इमाम अब्दुल वाजिद सकलैन साहब का इस्तक़बाल पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल, अन्नू पटेल, इक़बाल खान, अमन बजाज आदि ने किया और गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी।
मुस्लिम समाज के युवा समाजसेवी अन्नू पटेल ने बताया खजराना में बरसों से परम्परा चली आ रही है खजराना गांव की मस्जिद के इमाम ही खजराना ईदगाह पर नमाज़ अदा कराते हैं, इमाम साहब को खजराना गांव से ईदगाह तक परम्परागत रूप से सम्मान के साथ घोड़े पर लाया जाता है और जगह जगह इस्तक़बाल भी किया जाता है। ईदगाह पर  पर बडी संख्या में मुस्लिमजन ईद की नमाज अदा करने पहुंचे। साथ ही कई बच्चे भी पहुंचे। इससे बच्चों के लिए यहां मेले जैसा माहौल रहा। साथ ही लोगों ने अपने परिजनों की कब्रों पर अकीदत के फूल पेश किए। ईद की नमाज के बाद मुस्लिमजनों ने एक-दूसरे को गले मिलकर मुबारक बाद दी। 
ईदगाह पर देर तक मुबारकबाद देने का सिलसिला चलता रहा। यहां पर पूर्व विधायक सत्यनारायण पटेल, अन्नू पटेल, इक़बाल खान, अमन बजाज आदि कांग्रेसी नेताओं ने भी पहुंचकर मुस्लिमजनों को ईद की मुबारकबाद दी। साथ ही विभिन्न राजनीतिके दलों से जुडे लोगों ने भी ईदगाह पहुंचकर मुस्लिमजनों को मुबारकबाद दी। ईद पर शीरखुरमा, फैनी और सिवइयां खिलाई गई। ईद की पकवान की दावतों सिलसिला तीन दिन तक जारी रहेगा