जबलपुर। जून के महीने में गर्मी ने जनजीवन को परेशान कर रखा है। सूर्य देव आग उगल रहे हैं। शरीर को झुलसा देने वाली गर्मी से जनजीवन हलाकांन और बैचेन है। बुधवार को पारा एक बार फिर ४६ डिग्री के ऊपर निकल गया। दिन चढ़ता गया और गर्मी बढ़ती गई। भीषण गर्मी की वजह से पंखे गर्म हवा फेंक रहे थे तो कूलर ने भी शीतलता का साथ छोड़ दिया। शाम ढलने के बाद भी लोगों को राहत नहीं मिली। रात में उमस ने बैचेन किया। मौसम विभाग की माने तो राजस्थान से आ रहीं गर्म पश्चिमी हवाओं की वजह से पारा चढ़ता जा रहा है। मौसम विभाग का कहना है कि अभी तो मौसम के तेवर ऐसे ही बनें रहेंगे। मानसून की दूर-दूर तक आहट सुनाई नहीं दे रही है। अभी मानसून केरल भी नहीं पहुंचा लिहाजा जूून का पूरा महीना में भीषण तपन झेलनी पड़ेंगी।
लू चलने की चेतावनी.........
स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार ४५ डिग्री तापमान के ऊपर लू चलने लगती है और पारा ४६ के पार चला गया है अगले २४ घंटे के दौरान जिले में लू चलने की संभावना है। मौसम विभाग से स्वास्थ्य विभाग ने यह एडवाइस जारी की है कि घर से खाली पेट न निकले और हल्का व सुपाच्य भोजन करें। अधिक से अधिक पानी पीयें। तरल पेय पदार्थ और छाछ, लस्सी, पना व ताजे फलों के जूस का सेवन करें।
उबल रहा शहर.........
भीषण गर्मी से शहर उबल रहा है। पिछले पांच दिनों से पारा ४४ से ४६ डिग्री के बीच चल रहा है पांच दिन के अतंराल में  पारा ४६ डिग्री के पार निकल गया है। 
मौसम कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले २४ घण्टों के दौरान नगर का अधिकतम तापमान ४६.२  डिग्री सेल्सियस सामान्य से ६ डिग्री अधिक रिकार्ड किया गया। वहीं न्यूनतम तापमान २९.०८ डिग्री सेल्सियस सामान्य से ३ डिग्री अधिक रिकार्ड किया गया। हवा में नमी प्रातःकाल ३६ प्रतिशत और सायंकाल १७ प्रतिशत आंकी गई। सूर्योदय सुबह ५.२४ बजे और सूर्यास्त शाम ६.५४ बजे हुआ। मौसम कार्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि पश्चिमी दिशा से ३ किलोमीटर प्रति रफ्तार से हवाएं चल रही हैं और मौसम शुष्क बना हुआ है। इस वजह से तापमान उछाल मार रहा है। यदि आसमान पर बादल नहीं छाये और हवाओं की रफ्तार नहीं बढ़ी तो तापमान और ऊपर जा सकता है। प्रदेश में सबसे अधिक ४७ डिग्री तापमान सागर, गुना, नौगांव जिले में दर्ज किया गया। अगले २४ घण्टों के दौरान जिले में लू चलने की संभावना व्यक्त की गई।