वॉशिंगटन । अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा मंगल ग्रह पर जाने की हसरत रखने वालों की इच्छा पूरी कर सकती है। लाल ग्रह पर जाने वाले ‘मार्स 2020 रोवर’ के लिए इच्छुक लोगों से अंतरिक्ष एजेंसी ने अपने नाम भेजने को कहा है। नासा ने एक बयान में कहा कि चिप पर लिखे इन नामों को रोवर पर भेजा जायेगा। इस रोवर के माध्यम से पहली बार मानव के किसी अन्य ग्रह पर कदम रखने की संभावना प्रबल होगी। रोवर को जुलाई 2020 तक प्रक्षेपित किया जायेगा और इस अंतरिक्ष यान के फरवरी 2021 में मंगल की सतह को छूने की संभावना है। 1,000 किलोग्राम से अधिक वजन वाला रोवर ग्रह पर किसी समय मौजूद रहे सूक्ष्मजीवीय जीवन के चिह्न तलाश करेगा और वहां की जलवायु एवं भूतत्वों की विशेषता का पता लगायेगा। साथ ही वह धरती पर लौटने से पहले ग्रह से नमूने एकत्र कर लाल ग्रह के मानव अन्वेषण का मार्ग प्रशस्त करेगा। नासा ने कहा है कि नासा को नाम भेजने का अवसर एक यादगार बोर्डिंग पास का भी मौका देता है। इसके अनुसार यह अभियान नासा की चांद से मंगल तक की यात्रा में जन भागीदारी अभियान को रेखांकित करता है। नासा के साइंस मिशन डाइरेक्टरेट (एसएमडी) के सहायक प्रशासक थॉमस जुरबुचेन ने कहा, 'हम लोग इस ऐतिहासिक मंगल अभियान को शुरू करने के लिये तैयार हैं। हम इस अन्वेषण यात्रा में हर किसी की भागीदारी चाहते हैं।'