भिलाई । भिलाई इस्पात संयंत्र के स्टील मेल्टिंग शॉप (एसएमएस-3) लेडल में गुरुवार को एलएफ-2 में लेडल पंचर हो गया, जिसके कारण 180 टन हॉट मेटल जमीन पर बह गया और रेलवे ट्रेक पर फैल गया, जिससे कुछ ही मिनट में आग फैल गई। आग फैलने को देखकर तत्काल दो फायर ब्रिगेड को बुलाया गया जिसे फायर ब्रिगेड ने बमुश्किल एक घंटे बाद आग पर काबू पाया गया। आग की लपट इस तरह उठी की आसपास उपस्थित  कर्मचारी यहां से भागने गये। आग लगने से करोड़ों का नुकसान होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। जिस समय यह हादसा हुआ। लेडल के आसपास कर्मचारी नहीं थे, नहीं तो इससे उनको नुकसान हो सकता था।
बीएसपी में विभाग के जिम्मेदार अधिकारी एक ही लेडल का उपयोग बार-बार कर रहे हैं। एक लेडल का इस्तेमाल 10-10 बार करने के बाद उसे मेंटनेंस में भेज दिया जाना चाहिए। इसके विपरीत 16 से 16 हिट्स एक लेडल से ले रहे हैं। बीएसपी के कनवर्टर में तैयार स्टील को सेकेंडरी स्टील शॉप में विभिन्न प्रक्रिया से गुजरने के बाद स्लैब और ब्लूम के रूप में कास्टिंग करने कंटीन्यूअस कास्टिंग शॉप में लाया जाता है। इस दौरान सारी प्रक्रिया स्टील लेडल से होती है। इससे इस्पात लिक्विड अवस्था में रहता है, जिसे कंटीन्यूअस कास्टिंग शॉप में ब्लूम और स्लैब के रूप में डालकर प्लेट मिल और रेल मिल में भेजा जाता है।