देवास।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत पिछले पांच सालों में वेस्ट से वेल्थ और नॉलेज से वेल्थ की ओर चल रहा है। देश में बड़े पैमाने पर कचरा, शहरी अपशिष्ट और यहां तक की चावल के भूसे से भी बायो सीएनजी बनाने पर काम चल रहा है। यह बात देवास में प्रबुद्धजन से चर्चा करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कही। सम्मेलन में प्रबुद्धजन, वकील, व्यवसायी, उद्योगपति, समाजसेवी व अन्य नागरिक शामिल हुए।
श्री गडकरी ने कहा कि बायो सीएनजी से विमान तक उड़ाया जा चुका है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी गांव के मजदूर किसान को लाभ पहुंचाने के लिए काम कर रही है। धीरे-धीरे डीजल और पेट्रोल पर निर्भरता को घटाकर उत्पादन लागत कम कर लाभ को बढ़ाने पर काम किया जा रहा है। नागपुर में टॉयलेट का पानी बेचकर प्रतिवर्ष 180 करोड़ रूपए प्राप्त होते हैं। यही नहीं इसी पानी से बायो सीएनजी बनाकर 450 बसें चलाने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा विदर्भ के 6 जिलों को डीजल मुक्त बनाने पर काम चल रहा है।
- केन्द्र की योजनाओं से मिल रहा लाभ
श्री गडकरी ने बताया कि केंद्र में नरेन्द्र मोदी की सरकार आने के बाद लगातार विकास कार्य किए गए। केन्द्र की योजनाओं से सभी वर्गों को लाभ मिल रहा है। इसके साथ ही मुद्रा योजना से करोड़ों रोजगार सृजित हुए। उन्होंने उज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना,आयुष्मान योजना में 10 करोड़ गरीब परिवारों को पांच लाख रूपए तक का मुफ्त उपचार दिया जा रहा है। स्कूलों का विस्तार किया गया है। साथ ही प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत गांवों को मुख्य मार्गों से जोड़ा गया है, जिससे किसानों को अपनी उपज उचित बाजार तक पहुंचाने में आसानी हुई है।
- 55 फीसदी तक होगा सिंचाई का रकबा
श्री गडकरी ने कहा देश में पानी की कमी नहीं है, बल्कि पानी के नियोजन की कमी है। इसको ठीक करने के लिए देश भर में बड़े पैमाने पर नदियों को जोड़ने की योजनाओं पर काम चल रहा है। देश के दक्षिणी हिस्से में जहां पानी के लिए राज्यों की लड़ाई है, वहां दस नदियों को जोड़कर समस्या खत्म की जाएगी। सिंचाई के लिए ब्रिज के साथ बंधान का काम किया जा रहा है। जहां पहले ट्रेन से पानी ले जाना पड़ा था, वहां अब 24 घंटे पानी मिल रहा है। पानी की उपलब्धता बढ़ाकर 55 प्रतिशत तक की जाएगी, जिससे किसानों की आय बढ़ेगी और वर्ष में तीन और चार फसलें भी ली जा सकेंगी। इसी तारतम्य में प्रधानमंत्री सिंचाई योजना भी शुरू की गई है।
- भारतमाला प्रोजेक्ट से समृद्ध होगा देश
 श्री गडकरी ने कहा कि दिल्ली-मुम्बई, दिल्ली-मेरठ,बैंगलोर-हैदराबाद, इंदौर-भोपाल सहित कई ऐसे हाईवे बन रहे हैं, जो व्यापार, व्यवसाय, उद्योग और कृषि के लिए वरदान साबित होंगे। दिल्ली-मुम्बई हाईवे से देवास को भी सीधा जोड़ने के लिए अलग से हाईवे बनेगा, जिससे देवास से मुम्बई और दिल्ली दोनों की दूरी कम होगी। इंदौर-मनमाड़ रेल लाइन से देवास, इंदौर, पीथमपुर के उद्योगों को सीधे पोर्ट तक जाने का मार्ग खुलेगा और एक्सपोर्ट बढ़ेगा।
- जलमार्ग से कम होगी परिवहन लागत
 श्री गडकरी ने कहा कि सड़क और रेल मार्ग की तुलना में जल परिवहन सस्ता विकल्प है। इसको ध्यान में रखते हुए प्रमुख नदियों में जल मार्ग विकसित किए जा रहे हैं। गंगा, ब्रह्मपुत्र, यमुना सहित अन्य नदियों से माल लाने-ले जाने से उद्योगों का खर्च कम होगा, जिससे देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा।
- भाजपा को प्रचंड बहुमत से जिताने की अपील
 श्री गडकरी ने प्रबुद्धजनों से चर्चा करते हुए कहा कि देश में विकास की रफ्तार को बढ़ाने के लिए एक बार फिर मोदी सरकार बनाने की आवश्यकता है। उन्होंने देवास-शाजापुर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी  महेंद्रसिंह सोलंकी को प्रचंड बहुमत से जिताने की अपील की। इस अवसर पर विधायक श्रीमती गायत्रीराजे पवार, महापौर सुभाष शर्मा, जनअभियान परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप पांडे, विधायक प्रतिनिधि विक्रमसिंह पवार सहित बड़ी संख्या में भाजपा नेता, कार्यकर्ता, प्रबुद्धजन उपस्थित थे।