जबलपुर। कड़ी धूप के बीच पारा ४२ डिग्री के ऊपर पहुंच गया। दिन में धूप बदन को चुभ रही थी। गर्म हवाओं के थपेड़ों से जनजीवन हलाकान था। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि पश्चिमी हवाओं की वजह से  लू लपट चलती रही और मौसम शुष्क होने की वजह से पारा स्थिर रहा। हवा में नमी घटने से रात में उमस बढ़ गई थी।     
    स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के मुताबिक मौसम शुष्क होने की वजह से पारे में उछाल आ रही है। धूप का असर कुछ ज्यादा ही प्रभावी हो गया है। दिन भर में धरती इतनी तप जाती है कि सूर्यास्त के बाद भी वातावरण गर्म बना रहता है। कूलर, पंखों की हवा भी अब गर्मी से राहत नहीं दे पा रही है। धीरे-धीरे हवा में नमी घट रही है। लिहाजा आने वाले दिनों में तापमान और ऊपर चढ़ने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक पिछले २४ घंटों के दौरान नगर का अधिकत्तम तापमान ४२.०८ डिग्री सेल्यिस सामान्य से २ डिग्री दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान २६.०८ डिग्री सेल्सियस सामान्य दर्ज किया गया। हवा में नमी प्रात: काल २२ प्रतिशत और सायंकाल १२ प्रतिशत आंकी गई। सूर्योदय सुबह ५.३१ मिनिट पर और सूर्यास्त शाम ६.४१ मिनिट पर हुआ। प्रदेश में सबसे अधिक ४४ डिग्री तापमान खजुराहो जिले में दर्ज किया गया। गत वर्ष आज के दिन अधिकत्तम तापमान ४१.०३ डिग्री और न्यूनतम तापमान २८.०२ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पश्चिमी हवायें ८ से ९ किलोमीटर प्रति घंटे की औसत रफ्तार से चलीं। अगले २४ घंटों के दौरान मौसम शुष्क रहेगा।