जबलपुर। कर्ज से परेशान होकर एक किसान ने जहरीली वस्तु का सेवन कर लिया। जब परिजनों को इसकी जानकारी लगी तो वे आनन-फानन में उसे लेकर अस्पताल पहुंचे। किसान को गंभीर हालत में भर्ती किया गया है। फिलहाल उसकी स्थिति स्थिर बनी हुई है। बताया गया है कि किसान ने दो लाख रुपए का कर्ज लिया था। फसल खराब हो जाने के कारण वह कर्ज अदा नहीं कर पाया था, जिससे परेशान होकर उसने यह कदम उठाया। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।
बताया गया है कि न्यू भेड़ाघाट के पास इमलिया गांव मे रहने वाले ४५ वर्षीय किसान भूपत पटेल ने बुधवार को कर्ज माफ न होने से परेशान होकर जहर पी लिया। जिसके बाद किसान को इलाज के लिए गंभीर हालत में निजी अस्पताल में भर्ती किया गया। किसान की चार एकड़ जमीन बरगी हिनोता के पास है। भूपत पटेल खेती किसानी कर अपने परिवार का पालन पोषण करता था। किसान ने खेत में इस साल चने की फसल लगाई थी पर बीते दिन अचानक हुई बारिश और ओले से उसकी फसल खराब हो गई, जिसे देखते ही किसान ने खेत मे ही जहर पी लिया।
नहीं मिली मदद...........
आनन फानन में साथी किसानों ने उसे इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। किसान भूपत ने बताया कि उसके ऊपर दो लाख का कर्ज था पर सरकार की तरफ से आज तक माफ नहीं हुआ। इतना ही नहीं मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान से भी उसे इलाज के लिए मदद नहीं मिल रही है। किसान भूपत की माने तो बीते दिनों अचानक हुई बारिश से भी उसकी फसल खराब हो गई थी, जिसे देखकर वो सदमे में आ गया और खेत पर ही जहर पीकर आत्महत्या करने की ठान ली। फिलहाल किसान की हालत अभी खतरे से बाहर बताई जा रही है।