इन्दौर । लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के चलते प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई भी आज रोक दी गई। जिलाधीश कार्यालय में सैकड़ों लोग जनसुनवाई में देने के लिए लाए गए आवेदन लेकर भटकते रहे। बाद में सबको अपने-अपने आवेदन जमा कराने की व्यवस्था कर विदा किया गया। 
शहर कांग्रेस कमेटी के महामंत्री मनजीत टूटेजा ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि वे भी धार रोड स्थित ग्राम बिसनावदा की बालाजी धाम कालोनी में चल रहे अवैध निर्माण कार्यों की शिकायत कलेक्टर एवं नगर निगम के अधिकारियों को देकर वहां कराए जा रहे निर्माण कार्यों को तत्काल रोकने और कालोनी के अन्य भूखंड धारियों को राहत देने की मांग को लेकर पहुंचे थे। कलेक्टर कार्यालय में आवेदन लेकर उन्हें भी जांच एवं उचित कार्यवाही का भरोसा लेकर लौटना पड़ा। 
टूटेजा ने बताया कि ग्राम बिसनावदा की बालाजी धाम कालोनी के संचालक विजय राठी द्वारा एक ही प्लॉट पर तीन-तीन हिस्सों में बिना अनुमति के मकान बनाए जा रहे हैं। इस कारण भूखंड क्र. 13, 55 से 57 तक के भूखंडधारियों को अनेक परेशानियां उठाना पड़ रही है। जब इस अवैध निर्माण के बारे में राठी को अवगत कराया गया तो उन्होंने भूखंड धारकों से अभद्र व्यवहार किया और खुले तौर पर धमकियां दी कि मेरी मर्जी से ही निर्माण कार्य करूंगा। इसकी शिकायत ग्राम के सरपंच और सचिव के साथ ही बिल्डर को भी की गई लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है। पिछले मंगलवार को भी उन्होंने जनसुनवाई में यह शिकायत की थी और आज पुनः अब तक हुई कार्यवाही की जानकारी लेने पहुंचे तो उन्हें फिर से आवेदन देने के लिए कहकर रसीद दे दी गई और आगामी कार्यवाही के लिए आश्वासन देकर विदा कर दिया गया। टूटेजा ने विभिन्न सरकारी विभागों की जनसुनवाई की प्रक्रिया को जनहित में जारी रखने के लिए चुनाव आयोग को पत्र लिखा है।