वाशिंगटन । दुनिया में यूएई पहला ऐसा देश है, जिसकी 88 फ़ीसदी आबादी अप्रवासियों की है। भारत और चीन जैसे देश बढ़ती आबादी के कारण चिंतित हैं। वहीं संयुक्त अरब अमीरात जैसे देश प्रवासियों के बल पर सारी दुनिया में राज कर रहे हैं।
जारी रिपोर्ट के अनुसार कुवैत में 76 फ़ीसदी और बहरीन में 48 फ़ीसदी आबादी अप्रवासियों की है। अमेरिकी रिसर्च एजेंसी प्यू रिसर्च सेंटर की रिपोर्ट से प्राप्त जानकारी के अनुसार यूएई में सबसे ज्यादा भारतीय मूल के नागरिक नौकरी और कारोबार कर रहे हैं। इसमें कर्मचारियों की संख्या ही करीब 20 लाख से ज्यादा की है। वहीं 10 लाख लोग यूएई में रहकर कारोबार कर रहे हैं।
रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त अरब अमीरात में अप्रवासियों की संख्या 88 फ़ीसदी, कुवैत में 76 फ़ीसदी, बहरीन में 48 फ़ीसदी , स्विजरलैंड में 30 फ़ीसदी, ऑस्ट्रेलिया में 29 फ़ीसदी, कनाडा में 21 फ़ीसदी, ऑस्ट्रिया में 19 फ़ीसदी, स्वीडन में 18 फ़ीसदी, अमेरिका में 14 फ़ीसदी तथा ब्रिटेन में 13 फ़ीसदी आबादी प्रवासियों की है।