पुलवामा हमले पर मोदी सरकार को घेरने के चक्कर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी को कांग्रेस पर निशाना साधने का मौका दे दिया. दिल्ली में बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन में राहुल गांधी ने आतंकी मसूद अजहर को ‘जी’ कहकर संबोधित किया, जिसके तुंरत बाद बीजेपी ने इस बयान को अपने ट्विटर पेज पर शेयर कर दिया.

दरअसल एनएसए अजीत डोभाल पर तंज कसने के दौरान राहुल गांधी ने कहा, 'पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 से 45 जवान शहीद हो गए थे. सीआरपीएफ बस पर किसने बम फोड़ा? जैश-ए-मोहम्मद...मसूद अजहर ने... आपको याद होगा ना? यह वही मसूद अजहर है, जिसे 56 इंच वालों की तब की सरकार ने एयरक्राफ्ट में मसूद अजहर जी के साथ बैठकर अजीत डोभाल कंधार में हवाले करके आ गए थे.'

देश के 44 वीर जवानों की शहादत के लिए जिम्मेदार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना के लिए राहुल गांधी के मन में इतना सम्मान!
राहुल का पीएम पर हमला

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक बार फिर चौकीदार चोर है कहकर निशाना साधा और कहा, 'पांच साल पहले देश में चौकीदार आया. कहता है भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने आया हू. 56 इंच की छाती है. मोदी... मोदी... मोदी के नारे उनके लोग लगाते थे. अच्छे दिन आएंगे. कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते थे.' साथ ही उन्होंने कहा कि मेक इंन इंडिया की पीएम मोदी बात करते रहते हैं लेकिन उनकी शर्ट, जूते और जिस फोन से वह सेल्फी लेते हैं, वह फोन चीन में बना है.

बीजेपी का राहुल पर पटलवार

आतंकी मसूद अजहर को राहुल गांधी के 'जी' कहकर संबोधित करने पर बीजेपी ने पलटवार किया है. केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने ट्वीट किया, 'कम ऑन ‘राहुल गांधी जी’! पहले यह दिग्विजय जी की पसंद थे, जिन्हें वो “ओसामा जी” और “हाफिज सईद साहब” कहते थे. अब आप कह रहे हैं “मसूद अजहर जी”. कांग्रेस पार्टी को क्या हो गया है?

राफेल पर BJP को फिर घेरा

राहुल गांधी ने एक बार फिर से राफेल विमान डील का मामला उठाया और मोदी सराकर को घेरते हुए कहा कि 526 करोड़ का हवाई जहाज 1600 करोड़ में कैसे खरीदा? अनिल अंबानी ने कभी हवाई जहाज नहीं बनाया, लेकिन उन्हें करार दे दिया गया. राहुल गांधी ने कहा कि मोदी संसद भवन में मेरे सवालों का जवाब नहीं देते. राहुल ने यहां 'चौकीदार चोर है' के नारे भी लगवाए.
इसी तरह बीते दिनों जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आंतकी ओसामा बिन लादेन को एक ट्वीट में ओसामा जी कह दिया था, उस पर भी काफी हंगामा हुआ था. बीजेपी ने उस मुद्दे को लपक लिया था और पूरे देश में इस बात को प्रचारित करना शुरू कर दिया कि कांग्रेस के नेता आतंकियों के प्रति नरम रुख रखते हैं.

दिग्विजय सिंह ने इस पर सफाई देते हुए कहा था कि उन्होंने ओसामा जी व्यंग्य के तौर पर कहा था. उन्होंने कहा थी कि बीजेपी ऐसा बता रही है जैसे मैं ओसामा का समर्थक हूं. गौरतलब है कि लादेन 2001 में अमेरिका में हुए सबसे बड़े आतंकी हमले 9/11 का मास्टरमाइंड था. लादेन को अमेरिका ने मई 2011 में पाकिस्तान के एबटाबाद में मार गिराया था.