नई दिल्ली  ।  कामकाजी लोगों में गैस की समस्या लगातार बढ़ रही है, खासकर उन लोगों में, जिन्हें अपने काम के सिलसिले में लगातार कई-कई घंटे बैठे रहना पड़ता है। हम दफ्तरों में अकसर देखते हैं कि कितने ही लोग, चाहे भारी या हल्के शरीर के हों, पेट की गैस से परेशान रहते हैं। भले ही यह एक बेहद आम बीमारी है, लेकिन समय रहते सावधानी न बरती जाए, तो यह एक दिन बड़ी बीमारी का भी रूप ले सकती है। दफ्तरों में काम करने वाले लोगों में गैस की समस्या ज्यादा बढ़ने की जिम्मेदार है आज की बेढंग जीवनशैली, जिसमें तनाव भी बड़ा कारण है। इन कारणों से शरीर में जरूरी पाचक रसों का स्राव कम हो जाता है, जिससे अपच की समस्या जन्म लेती है। इस अपच के कारण ही पेट में गैस बनती है। आइए जानने की कोशिश करते हैं कि कामकाजी लोग गैस की तकलीफ से आराम कैसे पा सकते हैं। बैठे-बैठे काम करने से पेट का आकार बढ़ने लगता है। सामान्य तौर पर खाना खाने के बाद तुरंत बैठ जाने से आपका वजन बढ़ने लगता है। यह समस्या तब आती है, जब छोटी आंत के अंदर गैस भर जाती है। इसका सीधा संकेत पाचन क्रिया में गड़बड़ी भी है। वैसे तो इसे आम समस्या मानते हैं, लेकिन नजरअंदाज करने पर यह बीमारी गंभीर भी बन सकती है। दवाओं का अधिक सेवन के साथ-साथ और भी बहुत से कारण हैं, जिनकी वजह से आपका वजन बढ़ सकता है। इससे सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ता है, लिहाजा इससे छुटकारा पाने के लिए सही लक्षणों को पहचानना बहुत जरूरी है। लगातार कई घंटे तक न बैठें, हर एक घंटे में कुछ मिनट का ब्रेक लें। इससे आपके शरीर का पाचन तंत्र मजबूत रहेगा। अकसर दफ्तरों में लोगों को लगातार कम्प्यूटर के सामने बैठना पड़ता है। कम्प्यूटर पर लगातार काम करना न सिर्फ आपकी आंखों, बल्कि कंधों, रीढ़, पीठ और गर्दन को भी हानि पहुंचाता है, बल्कि यह आपके पेट में गैस की समस्या को भी बढ़ाता है। पांच मिनट के छोटे से ब्रेक से ही आंखों को काफी आराम मिल सकता है। दोपहर के खाने के बाद अक्सर होता है कि हम में से अधिकतर लोगों को नींद आने लगती है। ये दिक्कत कामकाजी लोगों के साथ ज्यादा होती है, क्योंकि लंच में ओवरईंटिंग हो जाती है या सोडियम वाले खाद्य पदार्थ का अधिक सेवन हो जाता है। उससे न सिर्फ नींद आती है, बल्कि पेट में गैस की समस्या भी हो जाती है।खाना खाने के तुरंत बाद आकर सीट पर मत बैठ जाएं, थोड़ा टहल के आएं। अगर समय कम है, तो सीढ़ियों से ही एक दो बार ऊपर नीचे उतर और चढ़ लें। ये छोटा सा व्यायाम आपके रक्त में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ाएगा, जिससे आपमें ऊर्जा का स्तर बढ़ेगा और आपको नींद नहीं आएगी।