नई दिल्ली । हमारे शरीर में उर्जा बनाए रखने के लिए नींद काफी आवश्यक होती है। ऐसे में ठीक से नींद पूरी ना होने के कारण कई तरह के रोग जैसे डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, दिल से संबंधित बीमारियां और मोटापा समस्याओं का खतरा बना रहता है। लेकिन क्या आपको पता है कि आपके सोने की आदतें आपकी सेहत और व्यक्तित्व के बारे में कई बातें बताती है। रात में दो या ज्यादा बार पेशाब जाना डायबिटीज या प्री डायबिटीज का संकेत हो सकता है। लगातार पेशाब आने का कारण ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ना हो सकता है। ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है तो वह पेशाब के रास्ते से शरीर से बाहर निकालने की कोशिश करता है। यदि सोते समय अचानक उठने के बाद आपको दोबारा नींद ना आए, तो इसके पीछे संभावित कारण रेस्टलेस लेग सिंड्रोम हो सकता है, जो मस्तिष्क संबंधी विकार है। लगभग 3 फ़ीसदी आबादी इस प्रकार से प्रभावित है। यदि बीच रात आप अपने साथी को लात मारते हैं श जागकर बैठ जाते हैं तो यह रेस्टलेस लेग सिंड्रोम हो सकता है। वहीं सोते समय सांस लेने में परेशानी स्लीप एपनिया का संकेत हो सकता है। यदि आप रात को करवट बदलते रहते हैं और दिल की धड़कन तेज हो जाती है, तो यह ओवरएक्टिव थायरॉइड की वजह से हो सकता है। यदि आपको लगातार रात को सोते समय अनिंद्रा, तेजी से दिल धड़कने और असहजता के समस्या होती है तो यह हाइपोथायरायडिज्म के कारण हो सकता है।