जबलपुर। जिले में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत २७ फरवरी से किसानों के कर्ज माफ करने की शुरूआत हो रही है। योजना के तहत प्रथम चरण में जबलपुर जिले में बुधवार को जिले की पाटन और सिहोरा तहसील के ५ हजार २३७ किसानों का २५ करोड़ ३९ लाख ६० हजार २३ रूपए का कर्ज माफ होगा।
    जिले के पाटन व सिहोरा तहसील में शिविरों का वृहद आयोजन करके किसानों को फसल ऋण माफी योजना का लाभ दिया जायेगा। पी.ए. खाताधारी किसानों का एक हजार से ५० हजार रूपए तक का तथा एन.पी.ए. खाताधारी किसानों का एक हजार रूपए से २ लाख रूपये तक का फसल ऋण माफ किया जा रहा है। पाटन और सिहोरा के तहसील स्तरीय शिविर में पी.ए. खाताधारी किसानों को सम्मान पत्र प्रदान किये जायेंगे तथा एन.पी.ए. खाताधारी किसानों को ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र सौंपे जायेंगे।
    पाटन में आयोजित तहसील स्तरीय शिविर में पाटन के ३ हजार २१९ किसानों का १८ करोड़ १६ लाख ७९ हजार ३९६ रूपए तथा सिहोरा तहसील के शिविर में २ हजार १८ किसानों का ७ करोड़ २२ लाख ८० हजार ६२७ रूपये का ऋण माफ किया जायेगा। शेष किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया जारी है, पूर्ण होते ही अन्य किसानों का भी कर्ज माफ किया जायेगा।
    किसानों के ऋणमाफी के प्रकरणों पर शासन से अनुमोदन प्राप्त होने की प्रक्रिया जारी है। जल्दी ही शेष पात्र किसानों के प्रकरणों में भी ऋण माफी की स्वीकृति भी शासन से प्राप्त हो जायेगी। इस प्रकार आवेदन फार्म भरने वाले और पात्र पाये जाने वाले किसानों को ऋण माफी का लाभ शासन से स्वीकृति मिलते ही अगले चरण में किया जायेगा।
ज्ञात हो कि जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत पहले चरण में जबलपुर जिले के १६ हजार ६७६ किसानों का करीब ७३ करोड़ ६० लाख ८७१ रूपये के फसल ऋण माफ किये जा रहे हैं।