अहमदाबाद | गांधीनगर में एक के बाद एक तीन हत्या के मामले की जांच कर रही पुलिस ने संदिग्ध किलर का स्कैच तैयार करवाया था| जिसकी लोगों ने रानी नामक किन्नर के नाम से पहचान की| यह सीरियल किलर सीसीटीवी कैमरे में उस समय कैद हो गया जब वह एक चाय की टपरी पर जा रहा था| सीसीटीवी फूटेज में वही शख्स दिखाई दे रहा है, जिसका पुलिस ने स्कैच बनवाया था| अडालज-मेहसाणा हाईवे स्थित मोमाई नामक टी स्टोल पर यह शख्स चाय पीने आता दिखाई दे रहा है| स्टोल पर काम करनेवाले लोगों का कहना है कि 30 जनवरी को पुलिस सीसीटीवी फूटेज ले गईथी, जिसके आधार पर पुलिस ने उसे जारी किया है| टी स्टोल मालिक या अन्य काम करनेवाले लोग इसके अलावा और कुछ नहीं जानते| जिस सीसीटीवी फूटेज में संदिग्ध शख्स चाय की टपरी पर दिखाई देता है, वह फूटेज 26 जनवरी की दोपहर 1.26 बजे की है|
गौरतलब है कि गांधीनगर के दंताली, कोबा और शेरथा गांव में 3 हत्याओं को अंजाम देने वाले सीरियल किलर की गांधीनगर पुलिस और गुजरात एटीएस तलाश कर रही है। अक्टूबर 2018 से शुरू हुए हत्या के सिलसिले में तीनों हत्याएं एक ही तरह से करना पाया गया। तीनों हत्याएं भी एक ही पिस्तौल से हुई। जांच के लिए एसआईटी का ग्ठन किया। इसमें विभिन्न स्तर के अधिकारियों एवं एजेंसियों का समावेश किया गया। अनजान हत्यारे को पकड़ने के लिए पुलिस ने कई स्थानों के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। पर कोई मजबूत सबूत नहीं मिला। पर हर बार घटनास्थल के पास एक लांग कोट और टोपी पहने व्यक्ति नजर आया। पुलिस ने इसका फोटोग्राफ और स्केच बनाया। इसे कई लोगों को बताया गया। आखिर में गांधीनगर हाइवे पर टोल टैक्स में पैसे मांगते किन्नरों को यह स्केच बताया गया, तो पता चला कि यह उनका भूतपूर्व साथी रानी है। जो 6 महीने पहले उनसे अलग हो गया है।