जबलपुर। बार कौंसिल ऑफ इंडिया के आह्वान पर प्रदेश सहित देश के अधिवक्तागण आगामी १२ फरवरी को प्रतिवाद दिवस मनाएंगे तथा न्यायालीन कार्यों से विरत रहेंगे। तदाशय की जानकारी शानिवार को मध्यप्रदेश राज्य अधिवक्त परिषद के अध्यक्ष शिवेन्द्र उपाध्याय व स्टेिंरग कमेटी के संयोजक आदर्श मुनि त्रिवेदी ने पत्रकारवार्ता में बताया कि बार कौंसिल ऑफ इंडिया नई दिल्ली द्वारा सभी स्टेट बार कौंसिल के प्रतिनिधियों, की संयुक्त बैठक २ फरवरी २०१९ में सर्वसम्मति से तय किया गया कि १२ फरवरी २०१९ को पूरे देश के अधिवक्तागण प्रतिवाद दिवस मनाकर अपनी मांगे सरकार के समक्ष प्रस्ताव के रुप में रखेंगे। बार कौंसिल ऑफ इंडिया द्वारा पारित प्रस्ताव के अनुसार अधिवक्ताओं के अधिकारों की रक्षा, न्यायापालिका की स्वतंत्रता, लोकतांत्रिक मूल्यों एवं संस्थाओं की रक्षा, अधिवक्ताओं की सुरक्षा एवं अधिवक्ताओं के कल्याण के लिये, जिसके संबंध में पहले से ही अभ्यावेदन दिये जा चुके हैं व कई बार मांगे की जा चुकी हैं। लेकिन सरकारों द्वारा इस संबंध में कोई कार्यवाही न किये जाने से पूरे देश के अधिवक्ता विवश हैं। अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ने के लिये इस हेतु बार कौंसिल आफ इंडिया द्वारा १२ फरवरी २०१९ को एक दिवसीय न्यायालीन कार्य से विरत रहते हुए प्रतिवाद दिवस का आह्वान किया गया है। स्टेट बार कौंसिल ऑफ मध्यप्रदेश ने प्रदेश के सभी अधिवक्ता संघों को परिपत्र जारी करते हुये प्रतिवाद दिवस मनाने हेतु निर्देशित किया हैं कि पूरे प्रदेश के अधिवक्ता १२ फरवरी २०१९ को न्यायालीन कार्य से विरत रहकर अपनी मांगे पूरी करने के लिये सरकार पर दबाव बनायेंगे।
राज्य सरकार ने भी पूरी नहीं की मांगे..........
मध्यप्रदेश राज्य अधिवक्ता परिषद भी राज्य सरकार के विरोध में यह प्रतिवाद दिवस मना रही है कि जो घोषणायें सरकार द्वारा की गई हैं अर्थात् नेय अधिवक्ताओं की बैठने की सुविधा व २५ हजार रुपये की सहायता राशि, ५ लाख का मृत्यु दावा, ५ लाख बीमारी में, लायब्रेरी एवं ई लायब्रेरी की सुविधा तथा इंश्योरेंस एवं पेंशन एवं विशेष रुप से 
एडवोकेट्स प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने हेतु अपना वादा पूरा करे। प्रतिवाद दिवस अभी सांकेतिक रुप से मनाया जा रहा हैं। मांगे पूरी न होने पर पूरे देश की बार कौंसिल के आह्वान पर २० उग्र आंदोलन करने के लिये मजबूर होंगे। इस दौरान उपाध्यक्ष दिनेश नारायण पाठक, बार कौंसिल के प्रवक्ता राधेलाल गुप्ता व आर के सिंह सैनी एवं सदस्यगण सर्वश्री प्रबल प्रताप सिंह सोलंकी, जगन्नाथ त्रिपाठी, भूप नारायण सिंह उपस्थित होकर पत्रकार वार्ता को संबोधित किया।