जबलपुर। गाड़ियों के सीजर (सीज करने वाले) की कनपटी पर रिवॉल्वर रखकर मारी गई गोली जबड़े को चीरती हुई आर-पार निकल गई। घायल अमखेरा रोड गोहलपुर निवासी मो. वसीम खान (32) को रसलचौक स्थित निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। घटना सोमवार शाम करीब 5.45 बजे लार्डगंज थानांतर्गत अंजुमन इस्लामिया स्कूल परिसर की है। पुलिस ने सिविक सेंटर में आइसक्रीम पार्लर चलाने वाले वसीम पेठा, सदर निवासी आमीन, प्रसन्ना व छोटू के खिलाफ हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्ज किया है

रिवॉल्वर लहराकर भागे, युवक ने पहुंचाया अस्पताल

हमलावरों को अंजुमन परिसर में पैदल जाते देखा गया था। जब गोली चलने की आवाज आई तब वहां कुंडल राव नामक युवक किसी से मिलने पहुंचा था। गोली चलने की आवाज पर कुंडल मौके पर पहुंचा जहां वसीम खून से लथपथ हालत में तड़प रहा था। वहीं से चारों हमलावर पैदल रिवॉल्वर लहराते हुए बाहर की ओर भागे। कुंडल ने वसीम को अस्पताल में भर्ती कराते हुए परिजनों को सूचना दी।

फोनकर बुलाया, नंबर के लिए किया विवाद

मजिस्ट्रेट व पुलिस के दिए बयान में घायल वसीम ने बताया कि सोमवार शाम गाड़ी की सीजिंग का ही काम करने वाले प्रसन्न ने फोन कर मिलने के लिए बुलाया था। वह वहां बाइक से पहुंचा। स्कूल परिसर में वैवाहिक आयोजन के लिए टेंट लगाया जा रहा था। जहां स्टेज के पास बैंक के जरिए गाड़ी की सीजिंग करने वाला प्रसन्न, आमीन, वसीम पेठा, छोटू मिले और उससे मोबाइल नंबर को लेकर विवाद करने लगे। प्रसन्न ने बोला कि उसका मोबाइल नंबर किसने दिया। इसी बात को लेकर चारों उससे विवाद व मारपीट करने लगे। इसी बीच उसकी कनपटी पर रिवाल्वर रखकर गोली चला दी गई। गोली लगते ही वह जमीन पर गिर पड़ा।

इनका कहना है

अंजुमन इस्लामिया स्कूल परिसर में गाड़ी के सीजर को गोली मारी गई है। घायल के बयान के आधार पर चार लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। हमलावरों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

-दीपक मिश्रा, सीएसपी कोतवाली

एक बार घटनास्थल से लौट गए टीआई

अंजुमन परिसर में गोली चलने की सूचना मिलते ही लार्डगंज थाना प्रभारी सत्येंद्र मोहन उपाध्याय बल सहित पहुंचे। वहां मौजूद लोगों, सुरक्षा कर्मियों से उन्होंने बातचीत की, लेकिन किसी ने गोली मारने की घटना की जानकारी नहीं दी। बाद में निजी अस्पताल से सूचना मिली तो पुलिस दोबारा स्कूल पहुंची और सुरक्षाकर्मियों को लताड़ लगाई। फिर बुलेट भी बरामद की।

 

चार घंटे बाद छोटू अस्पताल में भर्ती, हाथ में लगी गोली

गोलीकांड के 4 घंटे बाद एक आरोपित छोटू उर्फ समीर को रात 10 बजे आगा चौक स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। उसके बाएं हाथ में गोली लगी है। उसने आरोप लगाया कि मो. वसीम ने उसे गोली मार दी। हालांकि पुलिस अधिकारियों ने मामले को संदेहास्पद बताया है, जिसकी जांच के लिए रात में ही एफएसएल प्रभारी डॉ. सुनीता तिवारी को अस्पताल बुलाया गया। सीएसपी राजेश त्रिपाठी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।