नई दिल्ली,  सारा अली खान की बॉलीवुड डेब्यू फिल्म केदारनाथ मेकिंग के वक्त से चर्चा में बनी हुई है. शुरुआत में फिल्म प्रोड्यूसर-डायरेक्टर के बीच विवाद में फंसी. वो मुद्दा शांत होने के बाद केदारनाथ धार्मिक और कानूनी पचड़े में फंस गई है. केदारनाथ पर धार्मिक भावनाओं का अपमान करने और लव जेहाद फैलाने का आरोप है. उत्तराखंड हाईकोर्ट में मूवी को लेकर याचिक भी दायर की गई है. एक नजर डालते हैं केदारनाथ से जुड़े विवादों पर...

#1. निर्माता-डायरेक्टर के बीच विवाद

केदारनाथ की शूटिंग के वक्त ही विवाद की शुरूआत हो गई थी. फरवरी में क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट ने निर्देशक अभिषेक कपूर पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने समय पर फिल्म का प्रोडक्शन नहीं किया और उनका रवैया अनप्रोफेशनल है. क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट ने कहा कि अभिषेक कपूर के प्रोडक्शन हाउस GITS (a guy in the sky pictures) द्वारा फैलाई गई जानकारियां गलत और बेबुनियादी हैं. GITS ने अपने काम को सही तरीके से नहीं किया है. फिल्म के प्रोडक्शन में काफी देरी की गई. GITS की वजह से फिल्म को शुरू से ही नुकसान झेलना पड़ा है. 

#2. निर्माता-डायरेक्टर पर धोखाधड़ी का आरोप

निर्माता प्रेरणा अरोरा और निर्देशक अभिषेक कपूर पर 16 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का आरोप लगा था. पद्मा फिल्म्स के अनिल गुप्ता ने आरोप लगाए कि क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट ने उनके साथ 16 करोड़ की धोखाधड़ी की. प्रेरणा अरोरा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. उनके खिलाफ धारा 420, 467, 120b, 34 के तहत कार्रवाई हुई. मगर क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट ने इन आरोपों को गलत बताया.

#3. लव जेहाद के आरोप में फंसी केदारनाथ

फिल्म पर केदारनाथ मंदिर के पुजारियों ने आपत्त‍ि जताई है. केदारनाथ में पुजारियों की एक ऑर्गनाइजेशन केदार सभा के चेयरमैन विनोद शुक्ला ने कहा, "यदि फिल्म बैन नहीं हुई तो हम आंदोलन कर देंगे, क्योंकि हमें बताया गया है कि यह लव जिहाद को बढ़ावा देती है और इससे हिंदू भावनाएं आहत होती हैं."

दरअसल, टीजर में सुशांत और सारा के बीच एक बोल्ड सीन फिल्माया गया. जिसे देख पुरोहितों के अलावा हिंदू संगठनों ने CBFC को पत्र लिखकर कहा कि ये फिल्म हिंदुओं की भावनाओं का मजाक बनाती है. जिसके बाद सेंसर बोर्ड ने मूवी को 2 कट के साथ पास किया.

#4. उत्तराखंड -गुजरात हाईकोर्ट में याचिका 

उत्तराखंड हाईकोर्ट में निर्देशक अभिषेक कपूर की फिल्म के खिलाफ याचिका दायर की गई. याचिका में फिल्म पर हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया गया है. PIL स्वामी दर्शन भारती ने दायर कराई है. उनका कहना है कि मूवी हिंदुओं के पवित्र धाम पर एक ''धब्बा'' है. जनहित याचिका में ये भी आरोप है कि फिल्म के माध्यम से भगवान केदारनाथ का अपमान किया जा रहा है. PIL में दावा है कि मूवी के ट्रेलर में दिखाया गया है कि केदारनाथ घाटी में सदियों से मुस्लिम लोग रह रहे हैं. लेकिन असल में वहां मुस्लिम समुदाय का कोई भी निवासी नहीं है.

वहीं गुजरात HC में भी फिल्म पर बैन की मांग करते हुए अर्जी दायर की गई थी. लेकिन दोनों राज्यों की कोर्ट ने इन याचिकाओं को खारिज किया है. साथ ही बैन नहीं लगाने का फैसला सुनाया है.

#5. सारा की डेब्यू फिल्म को लेकर तकरार

खबरों के मुताबिक, फिल्म के निर्देशक अभिषेक कपूर ने लीड एक्ट्रेस सारा अली खान को कोर्ट में घसीटा था. दरअसल, केदारनाथ सारा की पहली फिल्म थी. इस दौरान सारा ने दूसरी फिल्म सिंबा साइन कर ली. केदारनाथ की शूटिंग में देरी के चलते दोनों फिल्मों की शूटिंग डेट्स क्लैश हो रही थी.

निर्देशक चाहते थे कि कोर्ट इस मामले में दखल दें और सारा को समझाए कि एक फिल्म की शूटिंग के दौरान वे दूसरी मूवी पर काम नहीं कर सकतीं. अभिषेक ने कॉन्ट्रैक्ट तोड़ने और क्षतिपूर्ति के लिए सारा से 5 करोड़ रुपये हर्जाने की भी मांग की. लेकिन बाद में सैफ अली खान और करण जौहर की दखलअंदाजी के बाद मामला सुलझा लिया गया.