जबलपुर। रिटायर्ड जीसीएफ कर्मचारी के खाते से १० लाख रुपए निकालने का मामला सामने आया है। रांझी पुलिस ने बताया कि जीसीएफ के रिटायर्ड कर्मी सोहन लाल पटैल ने शिकायत दर्ज कराई है कि रिटायरमेंट में मिली रकम उसके खाते में जमा थी। किसी ने उसकी चैक बुक से चैक चुरा लिया और फर्जी हस्ताक्षर करके १० लाख रुपए की रकम निकाल ली। 
पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की तो पता चला कि पुरानी टंकी अधारताल निवासी सैयद सलीम ने सोहनलाल के खाते से १० लाख रुपए निकाले हैं। जांच में यह बात भी सामने आई कि चैक में फर्जी हस्ताक्षकर करके सलीम ने रकम अपने पीएनबी के अकाउंट में ट्रांसफर की थी।
बचने के लिए ये तरकीब बनाई...................
जांच अधिकारी सतीश झारिया ने बताया कि धोखाधड़ी कर रुपए हड़पने से बचने के लिए सलीम ने नई तरकीब निकाली। उसने लेन-देन का एक फर्जी शपथ पत्र बनवाया। जिसमें यह दर्शाया गया कि उसे सोहनलाल से १० लाख रुपए लेने हैं। पुलिस की जांच में पता चला कि यह शपथ पत्र फर्जी है। फिलहाल सोहनलाल की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी सैयद सलीम के खिलाफ धारा ४२०, ४६७, ४६८, ४७१ का प्रकरण दर्ज किया है।