प्रतापगढ़, उत्तर प्रदेश की प्रतापगढ सदर विधानसभा सीट से निर्वाचित विधायक संगम लाल गुप्ता से 3 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई है. उन्हें दस दिन के भीतर पैसा न पहुंचाने पर जान से मारने की धमकी दी गई है. ये धमकी उन्हें हिंदी में एक चिठ्टी भेज कर दी गई है. जिसमें भेजने वाले का नाम 'अल्लाह' लिखा है.

विधायक संगम लाल गुप्ता को पहले भी मोबाइल पर जान से मारने की धमकी दी गई थी. हालांकि अब इस मामले में संज्ञान लेकर पुलिस अधीक्षक रंजन वर्मा ने मुकदमा दर्ज कर 2 टीम जांच के लिए लगा दी हैं. उनकी सुरक्षा में दो अतिरिक्त गनर भी तैनात किए गए हैं.

दरअसल, नगर कोतवाली इलाके के कटरा मेदनीगंज में अपना दल (एस) विधायक संगम लाल गुप्ता का कार्यालय है. जहां बीती रात अज्ञात बदमाशों ने उनके कार्यालय एक पत्र डाला और वहां से फरार हो गए. शुक्रवार की सुबह करीब 10 बजे जब विधायक का कार्यालय खुला तो कर्मचारियों की नजर वहां जमीन पर पड़ी एक चिट्ठी पर गई.

कर्मचारियों ने जब उसे खोलकर पढ़ा तो वहां हड़कंप मच गया. फौरन विधायक संगम लाल गुप्ता को इसकी जानकारी दी गई. विधायक ने तुरंत एसपी से मामले की शिकायत की. पूरे दलबल के साथ एसपी मौके पर जा पहुंचे और जांच में जुट गए.
धमकी भरा पत्र हिंदी भाषा में है. उसे नीले पेन से लिखा गया है. पत्र में विधायक से तीन करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई है. लिखा है कि अगर दस दिन में पैसा नहीं दिया तो उनकी हत्या कर दी जाएगी. पत्र के अंत में नीचे की तरफ अल्लाह लिखा हुआ है. पूरे पत्र को लाल पेन से क्रॉस किया गया है.

कुछ माह पहले भी फोन पर विधायक संगम लाल को जान से मारने की धमकी दी गई थी. इस संबंध में लखनऊ के एक थाने में मुक़दमा भी पंजीकृत कराया गया था. अब इस धमकी भरे पत्र से विधायक के समर्थकों में खासा रोष है.

पुलिस अधीक्षक रंजन वर्मा का कहना है कि किसी अज्ञात द्वारा विधायक को चिठ्ठी भेजी गई है. जिसमें 3 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई है. पुलिस की कई टीम लगाई गई हैं. मामले की छानबीन की जा रही है. जल्द ही आरोपियों को चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी.