कोलकाता: मोहम्मद शमी की उनकी पत्नी हसीन जहां के साथ विवाद खत्म होता नहीं दिख रहा है. ताजा मामले में शमी के अदालत के फैसले के मुताबिक हसीन जहां को दिए जा रहे चेक के बाउंस होने को लेकर है. इस मामले के तहत कोलकाता की स्थानीय अदालत ने बुधवार को शमी को 15 जनवरी तक पेश होने के आदेश दिए हैं.

अदालत ने शमी को उनकी पत्नी द्वारा दायर किए गए चेक बाउंस मामले में यह आदेश दिए हैं. अगर शमी ऐसा नहीं कर पाते हैं तो उनके खिलाफ वारंट भी जारी हो सकता है. शमी की पत्नी हसीन जहां ने खिलाड़ी के ऊपर 'द नेगोशिएबल इस्ट्रूमेंट एक्ट' के तहत केस दर्ज कराया है जिसके तहत उनका आरोप है कि शमी ने उनको मासिक खर्च के लिए दिए गए चेक का भुगतान रोक दिया था. शमी की पत्नी ने उनके ऊपर विवाहेतर संबंध रखने, घरेलू हिंसा के आरोप लगाए हैं. 

वकील भी हाजिर हो सकते हैं शमी की तरफ से
शमी के वकील एसके सलीम रहमान ने कहा, "शमी को कोलकाता की मुख्य दंडाधिकारी की अदालत में पेश होने को कहा गया है. अदालत ने कहा है कि शमी को या तो खुद पेश होना होगा या उनके वकील शमी की तरफ से हाजिर हो सकते हैं. शमी ने अपनी तरफ से वकील को भेजने का फैसला किया." उन्होंने कहा, "अदालत ने हालांकि कहा कि शमी को 15 जनवरी को होने वाली अगली सुनवाई में हाजिर होना होगा. अदालत ने साथ ही कहा कि अगर शमी हाजिर नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ वारंट भी जारी हो सकता है. हम अदालत के आदेश को चुनौती देंगे और इसे बदलने की मांग करेंगे."

यह है मामला
रहमान के मुताबिक शमी को पत्नी का खर्च वहन न कर पाने के केस में भी समन जारी किया गया है. शमी और उनकी पत्नी विवाद के बाद अलग रह रहे हैं ऐसे में शमी को अपनी पत्नी को खर्च के लिए एक तय राशि देनी होती है. वकील ने कहा, "जहां ने इससे पहले भी घरेलू हिंसा एक्ट के अंतर्गत खर्च मांगा था लेकिन अदालत ने उसे खारिज कर दिया. अब उन्होंने सीआरपीसी 125 के तहत एक और अपील दायर की है."

ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टेस्ट टीम इंडिया में हैं शमी
मोहम्मद शमी इन दिनों रणजी ट्रॉफी में व्यस्त हैं और ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाने वाली टेस्ट टीम का हिस्सा हैं. इस दौरे में टीम इंडिया को चार टेस्ट मैच खेलने हैं. पहला टेस्ट आगामी 6 दिसंबर को एडिलेड में शुरू होना है. वहीं अंतिम टेस्ट 3 से 7 जनवरी तक सिडनी में होना है. अभी शमी रणजी ट्रॉफी में बंगाल और मध्यप्रदेश के बीच चल रहे मैच में खेल रहे हैं. इसके बाद 20 से 23 नवंबर के बीच बंगाल का मुकाबला केरल के साथ होना है जिसमें शमी के खेलनी की संभावना है. 

गांगुली ने भी दिए ऐसे संकेत
बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी ऐसे संकेत दिए हैं कि शमी केरल के खिलाफ होने वाले रणजी ट्रॉफी मैच में बंगाल की तरफ से खेल सकते हैं. गांगुली ने कहा, "शमी खेलना चाहते हैं. अगर वह खेलते हैं तो यह बंगाल की टीम के लिए काफी अच्छा होगा. हमने पहले मैच से पहले उन्हें खेलने को लेकर एक पत्र लिखा था लेकिन वह फिटनेस के कारण नहीं खेले. अगर वह खेलते हैं तो यह अच्छा है." ऐसे में कोर्ट का यह कहना कि शमी की ओर से उनके वकील भी पेश हो सकते हैं, राहत की बात होगी.