नई दिल्ली : पीएनबी घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) को मंगलवार को एक और कामयाबी मिली. ईडी ने पीएनबी घोटाले के मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी के करीबी दीपक कुलकर्णी को कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया है. कुलकर्णी हांगकांग से आने वाली फ्लाइट से कोलकाता पहुंचा था और वह चोकसी की हांगकांग में चल रही डमी फर्म का डायरेक्टर था. सीबीआई और ईडी ने पिछले दिनों कुलकर्णी के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था. इसके बाद ईडी को कुलकर्णी को पकड़ने में मंगलवार को कामयाबी मिल गई.

अहम सुराग मिलने की उम्मीद
ईडी समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियों को उम्मीद है कि कुलकर्णी से घोटाले के फरार मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी के बारे में कुछ अहम सुराग मिल सकते हैं. कुलकर्णी से मिलने वाले अहम जानकारी के दम पर जांच एजेंसियां मेहुल चोकसी तक पहुंच सकती हैं. इससे पहले सितंबर में ईडी ने सभी आरोपों को झूठा और आधारहीन बताया था. चोकसी ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि ईडी ने गलत तरीके से मेरी संपत्ति जब्त की है.

यह पहला मौका था जब अरबों रुपये के पीएनबी घोटाले के सामने आने के बाद चोकसी ने एक वीडियो के माध्यम से अपना पक्ष रखा था और ईडी के आरोपों को गलत करार दिया था. चोकसी ने यह भी कहा था कि भारत सरकार उसे 'सॉफ्ट टार्गेट' बना रही है, क्‍योंकि वह ब्रिटेन भाग गए अन्‍य भगोड़ों को प्रत्‍यर्पित नहीं करा पा रही है.