नई दिल्ली. महेश भट्ट ने अपने 70 वें जन्मदिन पर जब से 'सड़क 2' की घोषणा की है तबसे लगातार कई बातें सामने आ चुकी हैं. अब भट्ट की बेटियों आलिया भट्ट और पूजा भट्ट ने अपने पिता के कई राज को सबके सामने खोलना शुरू कर दिया है. आलिया का कहना है कि उन्हें अपने पिता की कुछ हरकतें डरावनी लगती हैं, वहीं पूजा ने कहा कि उन्हें पिता महेश भट्ट किसी मनोचिकित्सक की तरह लगते हैं. आइए जानते हैं पिता के बारे में और क्या क्या सनसनीखेज खुलासे किए हैं भट्ट सिस्टर्स ने.
 

मनोचिकित्सक महेश भट्ट 
पूजा का मानना ​​है कि उसके पिता के पास उनके दिमाग में चलने वाली चीजों को पढ़ लेने का सुपर पॉवर है. पूजा ने बताया 'एक सुबह वह जब सोशल मीडिया पर अपने बॉस की तस्वीर अपलोड कर रही थीं और उसके लिए कैप्शन सोच रही थी तभी उनके पिता ने उनके दिमाग में चल रहा कैप्शन मैसेज किया. मैं डर गई थी कि यह कैसे पॉसिबल है कि कोई मेरे दिमाग में चल रही बात पहले ही भेज दे.' इस बात पर आलिया ने बताया कि उन्हें पिता की इस खूबी के कारण कई बार ऐसा फील होता है जैसे वह किसी माइक्रोस्कोप के नीचे बैठी हैं. पूजा ने बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि कई बार उनके बारे में सोचते हुए वह गैलीलियो जैसे लगते हैं, जिन्होंने बिना किसी सुविधा के पूरे सोलर सिस्टम के बारे में बता दिया था. 

दो साल में पापा के साथ रिश्ते सुधरे हैं - आलिया भट्ट 
इस बारे में बात करते हुए आलिया कहती हैं, 'यह फिल्म मेरे लिए बड़ा स्विच होगी. मैंने कभी सपने में भी पापा के डायरेक्शन में काम करने की बात नहीं सोची थी, यह बस एक सपने की तरह था. ऐसे में उनका 'सड़क 2' डायरेक्ट करने का फैसला मेरे करियर के लिए वरदान साबित हो सकता है. हमारी सहयोगी वेबसाइट डीएनए से हुई बातचीत में आलिया ने बताया, 'पिछले दो साल में मेरे और पापा के बीच केमिस्ट्री काफी सुधरी है, बचपन से अब तक मैंने उन्हें हमेशा व्यस्त देखा था. लेकिन आजकल वो मुझे समय देते हैं मेरी बात सुनते और समझते हैं.'

टीचर हैं महेश भट्ट
पूजा भट्ट अपने पिता को एक बेहतर पिता के साथ एक सख्त टीचर की तरह भी देखती हैं, उनका कहना है कि फिल्म इंडस्ट्री में कम ही लोगों को पिता के रूप में टीचर मिले हैं. उनमें से वह एक हैं. पूजा के अनुसार संजय दत्त जैसे बहुत से लोग हैं जो महेश भट्ट के आसपास रहकर जीवन के कठिन पलों से लड़ना सीखे हैं. 

बता दें कि महेश भट्ट ने बड़ी बेटी पूजा को फिल्म 'डैडी' (1989) में सिल्वर स्क्रीन पर उतारा था, लेकिन आलिया ने 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' से डेब्यू किया था. महेश भट्ट ने कुछ साल पहले निर्देशन से संन्यास ले लिया था. 'सड़क 2' से वह फिल्म निर्देशन में वापसी कर रहे हैं. इसलिए यह फिल्म बहुत मायनों में अलग है. आलिया और पूजा भट्ट के स्क्रीन शेयर करने का भी यह पहला मौका होगा. हालांकि महेश ने हाल ही में एक फिल्म में बतौर एक्टर काम किया है.