जमशेदपुर, दिल्ली के एक व्यक्ति को विराट कोहली की कंपनी के नाम पर ठगा गया है। ठगने वाले ने खुद को जमशेदपुर का बताया है। ठगी के शिकार करण बागेड़ा टैगोर गार्डन पश्चिमी दिल्ली के निवासी हैं। सोमवार को करण ने शहर पहुंचकर एसएसपी से फरियाद सुनाई और कार्रवाई की मांग की।


करण ने बताया कि दिल्ली में उसने टीवी पर एक विज्ञापन देखा, जिसमें विराट कोहली एंड कंपनी की तरफ से इनामी प्रतियोगिता रखी गई थी। उसने टीवी का ईनाम जीत लिया। इसके बाद उसमें दिए नम्बर पर कॉल किया। दो दिनों बाद उस नम्बर से फोन आया। कॉलर ने कहा कि ईनाम में उसने एक कार जीता है। उसे कार चाहिए कि नगद राशि। उसने कहा कि नगद चाहिए तो कॉलर ने पहले रजिस्ट्रेशन के लिए साढ़े छह हजार रुपये जमा करा लिए। इसके बाद उसने कहा कि इसमें जीएसटी 12 हजार 500 रुपये लगेंगे जिसे उसने ऑनलाइन जमा करा दिया। इसके बाद दोबारा कॉल आई, जिसमें कहा गया कि अब कार के बदले यदि नगद लेना है तो पहले डेढ़ लाख रुपये देने होंगे। उसके बाद उस व्यक्ति का नम्बर बंद है।


फिर सक्रिय हुआ गिरोह-

यह गिरोह चेहरा पहचानो-ईनाम पाओ प्रतियोगिता वाला ही गिरोह है, जो जमशेदपुर के नाम पर कई लोगों को ठग चुका है। गिरोह के द्वारा अब तक आठ सौ से ज्यादा लोगों को चूना लगाया जा चुका है। इसमें फिल्म कलाकार और क्रिकेटर की तस्वीर दिखाकर पहचानने को कहा जाता है। इसके बदले कार ईनाम में देने की बात की जाती है। चेहरा पहचानने के बाद ही घोषित विजेता से खाते में पैसे डलवाकर ठग लिया जाता है।