चंडीगढ़  कर्ज के बोझ से आत्महत्या कर रहे पंजाब के किसानों के लिए खुशखबरी है। पंजाब सरकार ने प्रदेश के किसानों को दिवाली का तोहफा देते हुए उनके कर्जमाफी की अधिसूचना जारी कर दी है। बता दें, सूबे में लंबे समय से कर्जमाफी की अधिसूचना जारी करने की मांग उठ रही थी। इस दौरान जहां किसानों के आत्महत्या की घटनाएं सामने आईं, वहीं किसान सड़कों पर भी उतरे। राज्य सरकार ने कर्ज माफी के लिए 9500 करोड़ रुपए की धनराशि जारी करने की अधिसूचना जारी की है। मिली जानकारी के मुताबिक, यह अधिसूचना सीधे बैंक प्रबंधकों और कृषि विभाग के अधिकारियों को भेजी गई है। अधिसूचना के अनुसार पंजाब सरकार ने पहले चरण में किसानों का 2 लाख रुपए तक का कर्ज माफ किया है। 

 

इससे पंजाब के 10 लाख 22 हजार किसानों को राहत मिलेगी। अधिसूचना में राज्य के सरकारी, सहकारी तथा निजी क्षेत्र के बैंकों से कर्ज लेने वाले किसानों को माफी के दायरे में शामिल किया गया है। उधर, पंजाब कृषि विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, गांवों व कस्बों के बैंक प्रबंधकों को इस संबंध में सूचना दे दी गई है कि वे अपने-अपने बैंकों से कर्ज लेने वाले किसानों की लिस्ट जिला मुख्यालय में अपने ही बैंक की शाखाओं को भेजें। 

 

यह रिपोर्ट मिलने के बाद पता किया जाएगा कि पंजाब में कितने किसान ऐसे हैं, जिन्होंने एक से अधिक बैंकों के माध्यम से कई बार कर्ज ले रखा है। विभागीय अधिकारियों का दावा है कि करीब 1 महीने के भीतर किसानों को लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।