शिमला हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री और 9 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के मुख्यमंत्री उम्मीदवार वीरभद्र सिंह के पास अपनी पत्नी प्रतिभा सिंह से अधिक आभूषण हैं। वीरभद्र सिंह और उनके परिवार के पास अपना कोई वाहन नहीं है हालांकि उनकी 'चल संपत्ति' 9.5 करोड़ की है। शुक्रवार को विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र के साथ दाखिल हलफनामे में वीरभद्र सिंह ने इसकी जानकारी दी है।

वीरभद्र के पास 50 लाख के गहने

आय से अधिक संपत्ति मामले में आरोपों का सामना कर रहे सिंह दंपती के पास कुल 9.5 करोड़ की संपत्ति है। इसमें वीरभद्र सिंह की संपत्ति करीब 7.15 करोड़ रुपए है। वहीं उनकी पत्नी और पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह के पास 2.51 करोड़ रुपए की संपत्ति है। हलफनामे में दिए आंकड़ों में यह आंकड़ा भी काफी दिलचस्प है कि वीरभद्र सिंह के पास 50 लाख रुपए कीमत के आभूषण हैं, जबकि उनकी पत्नी के पास 47 लाख रुपए की जूलरी है। हलफनामे में दिए संपत्ति के विवरण में वित्तीय प्रपत्र, आभूषण और अन्य चल संपत्ति भी शामिल हैं। इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री और उनकी पत्नी दोनों के नाम 1 करोड़ की बीमा योजना भी है। 

इस्पात मंत्री रहते लगे भ्रष्टाचार के आरोप

गौरतलब है कि आय से अधिक संपत्ति मामले में वर्ष 2009 से 2011 के बीच केंद्रीय इस्पात मंत्री के कार्यकाल के दौरान भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। मुख्यमंत्री और उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह, एलआईसी एजेंट आनंद चौहान और उसके सहयोगी चुन्नी लाल के खिलाफ 23 सितंबर, 2015 को भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था। प्रथम दृष्टया जांच में पता चला था कि वीरभद्र ने अपने ज्ञात आय स्रोत के अलावा 6.03 करोड़ की संपत्ति अपने और परिजनों के नाम कर दी थी। इसके बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। 

 

नई सीट अरकी से लड़ेंगे चुनाव

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने 9 नवम्बर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस बार वह नई सीट अरकी से चुनाव लड़ेंगे। अपनी परंपरागत सीट उन्होंने बेटे के लिए छोड़ दी है। वीरभद्र सिंह नामांकन दाखिल करने के लिए पत्नी प्रतिभा सिंह और बेटे विक्रमादित्य सिंह के साथ पहुंचे। 83 वर्षीय वीरभद्र सिंह, बीजेपी के युवा उम्मीदवार रतन सिंह पाल के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।