जालंधर : कनाडा में ट्विन इंजन एयरक्राफ्ट के साथ एक ड्रोन के टकराने का मामला सामने आया है। यह प्लेन कनाडा के क्यूबेक शहर में एयरपोर्ट पर उड़ान भर रहा था कि तभी इसके साथ एक ड्रोन टकरा गया। मिनिस्टर ऑफ ट्रांसपोर्ट मार्क गार्नेउ ने जानकारी देते हुए बताया है कि यह ड्रोन 1,500 फीट की उंचाई पर उड़ रहा था जबकि इस ऐरिए में ड्रोन उड़ाने की लीगल लिमिट 500 फीट रखी गई है। लिमिट से तीन गुणा उंचाई पर उड़ रहा यह ड्रोन जैसे ही स्काईजैट बीच किंग एयर नामक इस प्लेन के साथ टकराया तो ड्राइवर ने समझदारी दिखाते हुए प्लेन को सेफ्ली लैंड करवा दिया। सीएनबीसी ने बताया है कि प्लेन पर थोड़ा डैमेज जरूर हुआ है लेकिन इससे भी बदतर परिणाम हो सकते थे।

आपको बता दें कि कनाडा में 90 मीटर से 300 मीटर की उंचाई पर आमतौर पर ड्रोन उड़ाया जा सकता है। लेकिन अगर ड्रोन इससे ज्यादा उंचाई पर उड़ाया जाता है तो इसे उड़ाने वाले व्यक्ति पर 3000 डॉलर (लगभग 1 लाख 94 हज़ार रुपए) का फाइन पड़ता है।

उल्लेखनीय है कि इस साल मार्च के महीने में कनाडा में एक रूल पास किया गया था जिसमें बताया गया था कि एयरपोर्ट से 5.6 मील की दूरी पर ही ड्रोन्स को उड़ाया जाए। अगर कोई इसके अंदर ड्रोन उड़ाएगा तो उसे 25,000 डॉलर (लगभग 16 लाख 23 हज़ार रुपए) फाइन को तौर पर देने होंगे। फिलहाल इस ड्रोन को उड़ाने वाले व्यक्ति की तलाश की जा रही है।