नई दिल्ली.त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय (73) ने दिवाली पर पटाखों पर बैन और इनसे नॉइज पॉल्यूशन की बात करने वालों को आड़े हाथों लिया। उन्होंने मंगलवार को ट्वीट कर तड़के होने वाली अजान में लाउडस्पीकर्स के इस्तेमाल पर सेक्युलरों की चुप्पी को लेकर सवाल उठाए। पिछले दिनों दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर सुप्रीम कोर्ट के बैन पर भी रॉय ने नाराजगी जाहिर की थी। बता दें कि रॉय को मई, 2015 में त्रिपुरा का गवर्नर बनाया गया था। मुअज्जिन मीनारों से अजान करें...

- रॉय ने ट्वीट ने लिखा, ''हर साल दिवाली पर पटाखों से पॉल्यूशन (नॉइज और एयर) को लेकर जंग शुरू हो जाती है। लेकिन अजान के लिए तड़के 4.30 बजे लाउडस्पीकर्स के इस्तेमाल के खिलाफ कोई नहीं लड़ता। नॉइज पॉल्यूशन पर सेक्युलर गैंग की ये खामोशी मुझे हैरान करती है। कुरान या हदीस में लाउडस्पीकर्स का कहीं जिक्र नहीं है। मुअज्जिन को मीनारों से अजान करनी चाहिए, मीनारें इसीलिए बनाई गई हैं। लाउडस्पीकर्स का इस्तेमाल इस्लाम के उल्ट है।''

तथागत रॉय ने क्यों किया कमेंट?

- दिवाली से पहले ममता बनर्जी सरकार ने पटाखे फोड़ने को लेकर गाइडलाइन्स जारी की हैं। पश्चिम बंगाल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने कहा है कि रात 10 बजे के बाद 90 डेसिबल ध्वनि तीव्रता के पटाखे फोड़ने की इजाजत नहीं होगी।

- रॉय ने न्यूज एजेंसी से कहा कि तथाकथित सेक्युलर गैंग पटाखों से नॉइज पॉल्यूशन को मुद्दा बना कर शोर मचा रही है। उनका कहना है कि इससे दिल के मरीजों को परेशानी होगी, इसलिए पटाखों पर बैन लगा दिया जाए। पर उन्हें तड़के 4.30 बजे लाउडस्पीकर्स से होने वाली अजान से कोई दिक्कत नहीं। सरकार का ये दोहरा रवैया क्यों? मुझे बेहद दुख है कि सिर्फ वोट बैंक के लिए ऐसा किया जा रहा है।

बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं रॉय

- बता दें कि तथागत रॉय अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की खरीद-बिक्री पर बैन के फैसले पर उन्होंने नाखुशी जाहिर करते हुए कहा था कि जल्द ही अवॉर्ड वापसी गैंग हिंदुओं की चिता जलने के खिलाफ भी कोर्ट में याचिका डाल दे।नई दिल्ली.त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय (73) ने दिवाली पर पटाखों पर बैन और इनसे नॉइज पॉल्यूशन की बात करने वालों को आड़े हाथों लिया। उन्होंने मंगलवार को ट्वीट कर तड़के होने वाली अजान में लाउडस्पीकर्स के इस्तेमाल पर सेक्युलरों की चुप्पी को लेकर सवाल उठाए। पिछले दिनों दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर सुप्रीम कोर्ट के बैन पर भी रॉय ने नाराजगी जाहिर की थी। बता दें कि रॉय को मई, 2015 में त्रिपुरा का गवर्नर बनाया गया था। मुअज्जिन मीनारों से अजान करें...

- रॉय ने ट्वीट ने लिखा, ''हर साल दिवाली पर पटाखों से पॉल्यूशन (नॉइज और एयर) को लेकर जंग शुरू हो जाती है। लेकिन अजान के लिए तड़के 4.30 बजे लाउडस्पीकर्स के इस्तेमाल के खिलाफ कोई नहीं लड़ता। नॉइज पॉल्यूशन पर सेक्युलर गैंग की ये खामोशी मुझे हैरान करती है। कुरान या हदीस में लाउडस्पीकर्स का कहीं जिक्र नहीं है। मुअज्जिन को मीनारों से अजान करनी चाहिए, मीनारें इसीलिए बनाई गई हैं। लाउडस्पीकर्स का इस्तेमाल इस्लाम के उल्ट है।''

तथागत रॉय ने क्यों किया कमेंट?

- दिवाली से पहले ममता बनर्जी सरकार ने पटाखे फोड़ने को लेकर गाइडलाइन्स जारी की हैं। पश्चिम बंगाल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने कहा है कि रात 10 बजे के बाद 90 डेसिबल ध्वनि तीव्रता के पटाखे फोड़ने की इजाजत नहीं होगी।

- रॉय ने न्यूज एजेंसी से कहा कि तथाकथित सेक्युलर गैंग पटाखों से नॉइज पॉल्यूशन को मुद्दा बना कर शोर मचा रही है। उनका कहना है कि इससे दिल के मरीजों को परेशानी होगी, इसलिए पटाखों पर बैन लगा दिया जाए। पर उन्हें तड़के 4.30 बजे लाउडस्पीकर्स से होने वाली अजान से कोई दिक्कत नहीं। सरकार का ये दोहरा रवैया क्यों? मुझे बेहद दुख है कि सिर्फ वोट बैंक के लिए ऐसा किया जा रहा है।

बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते हैं रॉय

- बता दें कि तथागत रॉय अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की खरीद-बिक्री पर बैन के फैसले पर उन्होंने नाखुशी जाहिर करते हुए कहा था कि जल्द ही अवॉर्ड वापसी गैंग हिंदुओं की चिता जलने के खिलाफ भी कोर्ट में याचिका डाल दे।