महाराष्ट्र में भाजपा नीत सरकार का समर्थन करने वाले एक निर्दलीय विधायक ने दावा किया है कि शिवसेना के कम से कम 20 विधायक भाजपा में शामिल हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि अगर शिवसेना ने सत्तारूढ़ गठबंधन से नाता तोड़ने का फैसला किया तो पार्टी के कम से कम 20 विधायक भाजपा में शामिल हो जाएंगे.

अमरावती जिले से निर्दलीय विधायक रवि राणा ने कहा, अगर शिवसेना अपना समर्थन वापस लेने का फैसला करती है तो उसके 20-22 विधायक पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थाम लेंगे. राज्य सरकार में शामिल शिवसेना के तीन से चार मंत्री भी भाजपा में शामिल हो सकते हैं. राणा ने यहां राज्य सचिवालय में संवाददाताओं से बातचीत में यह दावा भी किया कि शिवसेना के गठबंधन से हटने की स्थिति में राकांपा भाजपा का साथ दे सकती है.

आने वाले दिनों में महाराष्ट्र की राजनीति में कुछ बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं जहां वरिष्ठ कांग्रेसी नेता नारायण राणे ने कल पार्टी छोड़ दी और उनके भाजपा में शामिल होने की अटकलें हैं.

दूसरी तरफ शिवसेना ने इस सप्ताह की शुरूआत में कहा था कि वह जल्द इस बारे में फैसला करेगी कि सरकार में रहे या नहीं. राणा के दावे के बारे में पूछे जाने पर शिवसेना प्रवक्ता नीलम गोरे ने कहा कि उनकी पार्टी इस तरह के बयानों पर ध्यान नहीं देती.