पटना: बिहार के विधायक ललन पासवान ने असंवेदनशीलता का बेहद वाहियात तरीके से परिचय देते हुए एक छात्रा की हत्या के मामले में उसकी सहपाठी से सवाल किया, "तुम्हें कैसे पता है कि उसके साथ रेप किया गया था... खून कहां से निकल रहा था...?" ललन पासवान ने अपनी 'पूछताछ' के दौरान यह नतीजा भी निकाला कि हत्यारा होस्टल में रहने वाली कुछ लड़कियों के परिचित हो सकते हैं.

केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सहयोगी तथा केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा द्वारा स्थापित राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के विधायक ललन पासवान वैशाली में एक सरकारी गर्ल्स होस्टल का दौरा कर रहे थे, क्योंकि रविवार को वहां 10वीं कक्षा की एक छात्रा मृत पाई गई थी, और उसके कपड़े खून में सने हुए थे. वहां पहुंचकर ललन पासवान ने खुद इस बात की तहकीकात करना चाही कि क्या हत्या से पहले लड़की का रेप भी किया गया था.

विद्यार्थियों और शिक्षकों के बीच खड़ी एक लड़की से ललन कैमरे के सामने कहते हैं, "तुम पढ़ी-लिखी हो... तुम्हें साफ-साफ जवाब देना चाहिए..." जबकि उस लड़की को साफ-साफ उनके सवालों पर सकुचाते देखा जा सकता है.

लेकिन विधायक को इतने भर से तसल्ली नहीं होती, और वह फिर कहते हैं, "अगर तुम हमें साफ-साफ नहीं बताओगी, तो कल उस वक्त तुम क्या करोगी, अगर यह (रेप) तुम्हारे साथ होगा...? अगर रेप करने वाला तुम्हारे कमरे में आ गया, तो क्या होगा...?"

ललन पासवान ने आरोप लगाया कि होस्टल में रहने वाली लड़कियों के लड़कों के साथ ताल्लुकात हैं, और दावा किया कि अगर उन्हें मौका दिया जाए तो वह बेहद आसानी से सिर्फ लड़कियों से पूछताछ कर इस मामले को सुलझा सकते हैं.

इसके बाद ललन पासवान एक अध्यापिका की तरफ घूमते हैं, और कहते हैं, "कोई भी, यहां तक कि आप भी" हो सकती हैं, जिसने हमलावर की लड़कियों के कमरों तक पहुंचने में मदद की होगी.

अपनी इस पूछताछ और 'थर्ड डिग्री' के दौरान एक वक्त ललन पासवान ने यह दावा भी किया कि वह तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भी पसीने छुड़ा सकते हैं. ललन पासवान ने हालांकि बाद में अपना बचाव करते हुए कहा कि उनका तरीका गलत हो सकता है, लेकिन उनका इरादा कतई नेक था.