मध्य प्रदेश के भोपाल जिले की 50 पंचायतों को शुरूआती चरण में 100 प्रतिशत कैशलेस ट्रांजेक्शन बनाने के लिए जिला पंचायत ने कार्रवाई शुरू कर दी गई है.

राज्य सरकार की तरफ से आधिकारिक जानकारी में बताया गया कि, इसके लिए जिला पंचायत और प्रशासन के अमले के साथ साथ बैंकर्स को भी जिम्मेदारी दी गई है.

एक-एक बैंक को दो से पांच तक ग्राम पंचायतों की जिम्मेदारी दी गई हैं, जहां पर वह कैशलेस ट्रांजेक्शन, डिजीटल ट्रांजेक्शन के लिए ग्रामीणों को प्रशिक्षित करने के साथ उन्हें प्रेरित करेंगे.

जिला पंचायत सीईओ आशीष भार्गव इस योजना को अमलीजामा पहनाने में जुटे हैं. उन्होंने बैंकर्स के साथ अभियान की रूपरेखा पर चर्चा भी की.

सीईओ भार्गव ने बताया कि जिले की 50 पंचायतों में जनवरी अंत तक शत प्रतिशत ट्रांजेक्शन कैशलस करने का लक्ष्य है.