सेहत:आज का लाइफस्टाइल ही  कुछ एेसा है कि हर कोई इस तनाव भरी और भागदौड़ भरी जिंदगी में  अपने काम में घंटो तक लगा रहता है और कई बार इसी कारण कुछ लोगो को  सिगरेट पीने की लत लग जाती है।जिससे पीछा छुडाना बहुत मुश्किल हो जाता है।इस लत का आदि आदमी किसी काम में अपना मन नहीं लगा पाता उसे थोड़ी थोड़ी देर बाद सिगरेट पीना पढ़ता है।एेसा व्यक्ति दूसरों को भी नुकसान पहुंचाता है।इस आदत से पीछा छुडाने के लिए लोग डॉक्टर से लेकर कई अन्य उपाय अपनाते हैं,लेकिन फिर भी इस बुरी लत से पीछा नहीं छुड़वा पाते। लेकिन कहते है कि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती बस आपके अंदर उसे छोड़ने का दृढ़-निश्चय होना चाहिए।इसके लिए आपको किसी दवा की जरूरत नहीं है बस इन 10 घरेलू  नुस्खों को अजमाकर आप सिगरेट पीने की लत से आसानी से पीछा छुड़ा सकते हैं।

 

1.शहद के साथ मूली का सेवन करने से जल्दी ही इस लत को छोड़ने में मदद मिलती है।


2.जब भी आपका सिगरेट पीने का मन करे तो अदरक के टुकड़े में नींबू का रस और काला नमक लगाकर चूसें, यह स्मोकिंग की इच्छा को कम करता है।

 

3. नमक लगे हुए आंवले के टुकड़ों को स्मोकिंग की इच्छा होने पर चूसने से यह आदत छूट जाती है।इसमें मौजूद विटामिन सी निकोटिन की आदत छुड़ाने में मदद करता है।

 

4.जब भी सिगरेट पीने की इच्छा हो तो चुइंगम चबाना चाहिए।इससे ध्यान बंट जाएगा और इसे पाने को मन नहीं करेगा।

 

5.यदि आप अपनी डायट में लाल मिर्च को शामिल करे तो यह निकोटिन की इच्छा को कम करने में मदद करती है।

 

6.इसमें व्यक्ति को शहद चाटना चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन्स और प्रोटीन इस लत को छुडवाने में काफी मददगार है।

 

7.जब भी सिगरेट पीने की तलब लगे आप दालचीनी का एक टुकड़ा अपने मुंह में रखकर चूसें।दालचीनी का तीखा स्वाद निकोटिन से आपका ध्यान हटाने में मदद करेगा।

 

8.इस लत से छुटकारा पाने के लिए दिनभर में दो से तीन बार बेकिंग सोड़ा को पानी में घोलकर पीना चाहिए।

 

9.इससे पीड़ित आदमी अपनी डायट में ओट्स को जरूर शामिल करें क्योंकि ओट्स शरीर के विषैले तत्व बाहर निकाल देता है और स्मोकिंग की इच्छा कम होने लग जाती है।

 

10.यदि आप दिनभर में 6-8 ग्लास पानी पीते हैं तो इससे आपकी बॉडी हाइड्रेट रहती है और शरीर में पानी की मौजूदगी निकोटिन के बूरे प्रभाव को कम करती है।

 

यदि आप इन उपायों को रोज अपनाएं तो आप अपनी इस बुरी आदत से छुटकारा पा सकते है।