भोपाल। नोटबंदी के बाद मध्य प्रदेश में तीन स्थानीय निकायों के चुनावों की हो रही मतगणना में बीजेपी का पलड़ा भारी नजर आ रहा है। मांडव नगर पंचायत में अध्यक्ष पद पर बीजेपी की मालती गांवर ने जीत हासिल की है। यहां से बीजेपी के 12 पार्षद भी जीते हैं। वहीं अमरकंटक का नगर परिषद अध्यक्ष का चुनाव बीजेपी की प्रभा पनारिया ने जीता है। यहां से 11 पार्षद भी बीजेपी के जीते हैं। हरदा नगर पालिका अध्यक्ष पद के चुनाव में बीजेपी के सुरेन्द्र जैन आगे चल रहे हैं।

चंडीगढ़, महाराष्ट्र और गुजरात में भी मिली थी जीत

नोटबंदी के महाराष्ट्र, गुजरात और चंडीगढ़ के स्थानीय चुनावों में भी बीजेपी का ही परचम लहराया था। चंडीगढ़ के नगर निगम चुनाव में बीजेपी को 26 में से 21 वार्डों पर जीत दर्ज की। 27 नवंबर को गुजरात में भी स्थानीय निकायों के उपचुनाव हुए थे। यहां बीजेपी ने 126 में से 109 सीटों पर जीत हासिल की थी। कांग्रेस को सिर्फ 17 सीटें मिलीं। पहले यहां बीजेपी के पास 64 सीटें थीं और कांग्रेस के पास 52 सीटें थीं। महाराष्ट्र में भी बीजेपी ने अच्छी खासी बढ़त हासिल की थी।

5 राज्यों के चुनावों में परीक्षा

स्थानीय निकाय चुनाव में भले बीजेपी के खाते में जीत आई हो लेकिन विपक्षी दल और कांग्रेस अगले विधानसभा चुनावों में बीजेपी के खिलाफ पूरी रणनीति बना चुके हैं। यूपी में पार्टी की टक्कर समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी से है तो पंजाब में आम आदमी पार्टी उसके लिए बड़ी चुनौती बनकर उभरे हैं। उत्तराखंड में रावत सरकार को सत्ता से हटाना और गोवा में सत्ता बचा पाना भी पार्टी के लिए कम आसान नहीं होगा।