मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में डबल सुसाइड का मामला सामने आया है. पुलिस ने एक होटल से युवक-युवती का शव बरामद किया. दोनों ने जहर खाकर जान दी. सुसाइड के पीछे प्रेम प्रसंग का अंदेशा जताया जा रहा है. हालांकि, सुसाइड नोट नहीं मिलने की वजह से मामले में रहस्य बना हुआ है.

घटना हनुमानगंज इलाके की है. बताया जा रहा है कि इलाके की अमरदीप होटल में गुरुवार दोपहर 12:00 बजे इंदौर निवासी मनीषा लौवंशी ने कमरा नंबर 213 में चेक इन किया था.

मनीषा को होटल छोड़ने एक युवक आया था. युवक की पहचान छोला इलाके के शिव नगर निवासी शुभम पटेल के रूप में हुई है. कमरे में कुछ समय रुकने के बाद दोनों होटल से बाहर चले गए. इसके बाद शाम को शुभम और मनीषा वापस होटल पहुंचे.

रात करीब 10:30 बजे होटल के मैनेजर रामराज पटेल ने कमरे में जाकर देखा तो शुभम और मनीषा बेड पर अचेत अवस्था में पड़े हुए थे. मैनेजर ने दोनों को उठाने की कोशिश की, जब कोई जवाब नहीं मिला तो मैनेजर ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी.

मौके पर पहुंची एंबुलेंस के डॉक्टरों ने बताया कि शुभम की मौत हो चुकी है, जबकि मनीषा की नाजुक हालत को देखते हुए उसे हमीदिया अस्पताल लेकर गए. यहां डॉक्टर ने मनीषा को मृत घोषित कर दिया.

पुलिस को कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.पुलिस का कहना है कि इंदौर निवासी मनीषा बीते कई सालों से घर से बाहर है.

पुलिस ने इंदौर में रहने वाले मनीषा के भाई विनोद से मोबाइल फोन से संपर्क किया. विनोद ने पुलिस को बताया कि मनीषा पहले भी घर छोड़कर जा चुकी है. कई सालों से वह घर से बाहर है. इसलिए थाने में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई.

वहीं, होटल पहुंचे शुभम के परिजनों ने शव की पहचान कर ली. उन्होंने भी सुसाइड की वजहों को लेकर कुछ खुलासा नहीं किया.

हनुमानगंज थाना प्रभारी जितेंद्र पटेल ने बताया कि सुसाइड के पीछे प्रेम प्रसंग का कारण हो सकता है लेकिन परिजनों के बयान के बाद ही स्पष्ट कारणों का खुलासा हो पाएगा.