दक्षिण एशियाई विश्वविद्यालयों के युवा उत्सव के दौरान मध्य प्रदेश के इंदौर में आगामी 28 फरवरी को भाजपा सांसद और मशहूर अभिनेत्री हेमा मालिनी की प्रस्तावित नृत्य प्रस्तुति के खिलाफ कांग्रेस समर्थित भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) ने मोर्चा खोल दिया है.

यह पांच दिवसीय कार्यक्रम इंदौर के देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) की मेजबानी में आयोजित होगा.

एनएसयूआई की मध्यप्रदेश इकाई के उपाध्यक्ष जावेद खान ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘डीएवीवी प्रशासन हेमा मालिनी को उनकी नृत्य प्रस्तुति के लिये 25 लाख रुपये की मोटी फीस देने वाला है, जबकि इस कार्यक्रम के लिये मंच तैयार करने और अन्य व्यवस्थाओं में करीब पांच लाख रुपये के अतिरिक्त खर्च का अनुमान है. विश्वविद्यालय प्रशासन को भाजपा सांसद के कार्यक्रम पर बड़ी रकम फूंकने के बजाय यह धन विद्यार्थियों के हित में खर्च करना चाहिये.’

खान ने यह आरोप भी लगाया कि दक्षिण एशियाई विश्वविद्यालयों के 28 फरवरी से चार मार्च तक आयोजित युवा उत्सव में मथुरा की भाजपा सांसद की नृत्य प्रस्तुति की आड़ में डीएवीवी में ‘भगवाकरण’ को बढ़ावा दिया जा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘भारतीय विश्वविद्यालय संघ ने इस युवा उत्सव के आयोजन के लिये डीएवीवी को महज 15 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने का फैसला किया है. ऐसे में हेमा मालिनी की नृत्य प्रस्तुति के लिये बड़ी रकम का इंतजाम डीएवीवी को अपने बूते करना होगा.’