अपने घर के आसपास के वातावरण को पौधे लगाने के जरिए हरा-भरा और शुद्ध बनाएं रखने की सलाह हमेशा दी जाती है. एलोवेरा, स्पाइडर प्लांट जैसे पौधे हवा को शुद्ध करते हैं. बगीचे से जुड़ी उत्पादों को बेचने वाली कंपनी 'अर्थली क्रिएशंस' की संस्थापक व विशेषज्ञ हरप्रीत अहलूवालिया ने ऐसे छह पौधों के बारे में बताया है, जो आसपास के वातावरण व हवा को शुद्ध करने का काम करते हैं : 

- एलोवेरा (घृत कुमारी) कार्बन डाइऑक्साइड और कार्बन मोनोऑक्साइड को अवशोषित कर लेता है. घर में लगाए जाने वाले लाभकारी पौधों में से यह एक है. यह ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाता है. ऐसा माना जाता है कि एक एलोवेरा का पौधा नौ एयर प्यूरीफायर (हवा को शुद्ध करने वाला उपकरण) के बराबर होता है. यह हर मौसम और मिट्टी में आसानी से लग जाता है. 

- बैंबू (बांस) के पौधे को पर्याप्त सूरज की रोशनी की भी जरूरत नहीं होती और यह घर के अंदरूनी भागों जैसे कमरों आदि में रखे जाने पर भी आसानी से विकसित होता है. हवा को शुद्ध करने साथ ही यह घर में सौभाग्य भी लाता है. यह वातावरण को रोगाणु मुक्त भी रखता है. कम पानी में भी आसानी से लग जाने वाला यह पौधा नजदीकी पौधों के दुकानों में आसानी से मिल जाता है. 

- आइवी पौधा अपने रोपण के छह घंटे के भीतर ही हवा को शुद्ध करना शुरू कर देता है. यह हवा में मौजूद अवशिष्ट कणों को 58 प्रतिशत और हानिकारक विषाक्त कणों को 60 प्रतिशत तक दूर कर देता है. 

- स्पाइडर पौधा कम धूप में भी अच्छे से प्रकाश संश्लेषण करने के लिए जाना जाता है. यह कार्बन मोनोऑक्साइड, स्टेरीन और गैसोलीन को हटाकर हवा को शुद्ध करता है, जिससे बच्चे और वयस्क आराम से सांस ले सकते हैं.

- स्नेक पौधा भी सूरज की कम रोशनी में अच्छी तरह से प्रकाश संश्लेषण कर सकता है. शयनकक्ष में रखे जाने के लिए यह बिल्कुल उपयुक्त है, क्योंकि यह रात में भी ऑक्सीजन उत्सर्जित करता है. 

- पीस लिली का पौधा हवा में मौजूद हानिकारक कणों और रोगाणुओं को दूर करके हवा शुद्ध करता है. घर व आसपास की हवा को शुद्ध करने के लिए पीस लिली के तीन से चार पौधे पर्याप्त और प्रभावी हैं.