एक किसान की बेटी ने अपने तेज दिमाग के बूते पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना ली है. इस बच्ची ने महज आठ मिनट में गणित के 182  सवाल हल कर इंटरनेशनल प्रतियोगिता में दूसरा स्थान हासिल किया है.

एमपी के बैतूल निवासी एक किसान की सात साल की बेटी श्रुति चौरसिया ने 11 नवंबर को दुबई में आयोजित 21वीं अंतरराष्ट्रीय अबेकस मेंटल एंड लिसनिंग प्रतियोगिता में 5 से 13 आयुवर्ग में दूसरा स्थान हासिल कर देश और प्रदेश का गौरव बढ़ाया है.

इस स्पर्धा में दुनियाभर से कुल 2278 छात्रों ने भाग लिया था जिनमें से श्रुति ने अपने आयुवर्ग में सैकड़ों छात्रों को पीछे छोड़ते हुए ये मुकाम हासिल किया.

इस स्पर्धा में छात्रों को पांच मिनट में अंकगणित के 200 सवाल हल करने का टारगेट दिया गया था. श्रुति ने 8 मिनट में 182 सवाल हल कर दूसरा स्थान पाया.

इस आयुवर्ग के किसी भी बच्चे के लिए ऐसा करना एक कठिन काम होता है. इस प्रतियोगिता का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात के जरिए करवाया गया था.

इस प्रतिष्ठित प्रतयोगिता में दूसरा स्थान हासिल करने वाली श्रुति प्रदेश की पहली छात्रा भी बन गई है. दुबई में धूम मचाकर श्रुति बैतूल पहुंची तो लोगों ने उसका जोरदार स्वागत किया और सम्मान किया.

ग्रोवेल अबेकस अकेडमी की इस होनहार छात्रा ने पिछले दिनों जयपुर में आयोजित राष्ट्रीय स्पर्धा में महज पांच मिनट में अंकगणित के 200 सवाल हल करके कीर्तिमान बनाया था, जिसके बाद  उसका अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चयन हुआ.

इस उपलब्धि के बाद श्रुति के किसान पिता मुकेश चौरसिया का कहना है कि अब वो अपनी बेटी को दूसरी अंतर्राष्ट्रीय स्पर्धाओं में भेजने की तैयारी करेंगे. वहीं श्रुति के ट्रेनर्स के मुताबिक इस उपलब्धि को हासिल करने वाली श्रुति जिले की पहली बेटी बनी है, जिस पर उन्हें गर्व है