इंजन में गड़बड़ी होने के कारण जोनल स्टेशन में हावड़ा- मुंबई गीतांजलि एक्सप्रेस व रायगढ़ जाने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस 35 से 40 मिनट तक खड़ी रही। सूचना के बाद संबंधित विभाग के कर्मचारी पहुंचे। लेकिन गीतांजलि एक्सप्रेस का इंजन नहीं सुधरा। ऐसी स्थित दूसरा इंजन लगाया गया। जनशताब्दी एक्सप्रेस को इंजन सुधार करने के बाद रवाना कर दिया गया। इसके चलते यात्री हलाकान थे।

गीतांजलि एक्सप्रेस शनिवार को अपने निर्धारित समय रात 12.40 बजे बिलासपुर पहुंची। 10 मिनट ठहराव के बाद रात 12.50 बजे जैसे ही सिग्नल मिला चालक रवाना होने वाला था लेकिन स्टार्ट ही नहीं हुआ। उन्होंने इसकी सूचना स्टेशन मास्टर व कंट्रोल दोनों को दी। जानकारी मिलते ही कर्मचारी पहुंच गए। कर्मचारियों ने खराबी ढूंढकर इंजन को स्टार्ट करने की जद्दोजहद की। लेकिन वह असफल रहे। ऐसी स्थिति में दूसरा इंजन लगाकर रवाना किया गया। इस दौरान आधे घंटे से अधिक समय गुजर गया। ट्रेन बिलासपुर से रात 1.25 बजे रवाना हुई। इसके बाद ही यात्रियों ने राहत की सांस ली। इसी तरह रविवार की रात जनशताब्दी एक्सप्रेस के इंजन में भी अचानक खराबी आ गई। यह खराबी बिलासपुर पहुंचने के पहले से आई थी। इसके चलते इस ट्रेन का परिचालन प्रभावित हुआ। ट्रेन अपने निर्धारित समय से एक घंटे विलंब रात 8.50 बजे जोनल स्टेशन में पहुंची। जबकि सामान्य दिनों में इसके यहां पहुंचने का समय शाम 7.40 बजे है। किसी तरह ट्रेन बिलासपुर पहुंची तो यात्रियों को लगा अब आगे किसी तरह की अड़चन नहीं आएगी। लेकिन यहां पहुंचने के बाद फिर से ट्रेन के पहिए थम गए। कर्मचारियों को खराबी ठीक करने के लिए बुलाया गया। इस दौरान उन्हें 40 मिनट लग गए। इसके बाद रात 9.30 बजे ट्रेन रवाना हुई।