भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए आज करो या मरो की स्थिति थी लेकिन मैच के हॉफ टाइम से पहले तक भारतीय टीम ने बेहद खराब प्रदर्शन किया और 0-5 गोल अंतर से पिछड़ गई है।
क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के लिए भारत का अर्जेंटीना पर जीत दर्ज करना जरूरी है। लेकिन अब नहीं लगता कि भारतीय टीम वापसी कर पाएगी। हार के बाद भारत को अंतिम दो पायदान पर रहना पड़ेगा।

दूसरी ओर, भारत के लिए ओलंपिक का पहला सप्ताह निराशाजनक गुजरने के बाद आज भारत के लिए पहला पदक सुनिश्चित करने के इरादे से सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की जोड़ी मिक्स्ड डबल्स मुकाबले में उतरेगी।

भारतीय जोड़ी का मुकाबला अमेरिका की वीनस विलियम्स और राजीव राम की जोड़ी से होगा। इस मुकाबले में जीत दर्ज करते ही भारते के लिए कम से कम रजत पदक सुनिश्चित हो जाएगा।
 
एथलेटिक्स में भारत की सुधा सिंह और ललिता बाबर 3000 मीटर स्टिपल चेज के फाइनल में भारतीय चुनौती पेश कर रही हैं। ललिता बाबर ने दूसरी हीट में 4 था स्थान हासिल किया। बाबर ने हीट में अपना राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी तोड़ा और फाइनल में पहुंच गई हैं। लेकिन सुधा सिंह फाइनल में जगह नहीं बना सकीं।

वहीं, महिला बैडमिंटन में साइना नेहवाल और पीवी सिंधु अगले दौर के मुकाबले में उतरेंगे। वहीं पुरुषों के युगल में मनु अत्री और सुमित रेड्डी अपना दूसरा मैच खेलेंगे। पहले मैच में इस जोड़ी को हार मिली थी। महिला युगल में बाहर हो चुकी ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी अपना अखिरी मैच खेलेगी।