छत्तीसगढ़ में अंबिकापुर में एक नाबालिग लड़की के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है.

मिली जानकारी के मुताबिक अंबिकापुर के खैरबार इलाके में एक सीआरपीएफ जवान ने एक मां के सामने उसकी नाबालिग बेटी का अपहरण कर लिया और अपहरण करने के बाद उसको अपने मामा के घर ले गया.

15 वर्षीय किशोरी की मां ने इस बात का विरोध किया तो जवान ने उसे यह कह कर सामने से हटा दिया कि रात भर के लिए ले जा रहा हूं और सुबह पंहुचा दूंगा.

दरअसल, इस घिनौने कृत्य को करने वाला 25 वर्षीय जवान आशीष कुजूर जम्मू-काश्मीर के बारामुला से छुट्टी लेकर अपने गांव आया था और शनिवार रात खैरबार के अमहियापारा निवासी अपने मामा बबलू सिंह के साथ ग्राम लोंगापानी स्थित एक महिला के घर पहुंचा.

यहां उसकी 15 वर्षीय पुत्री का हाथ पकड़कर उसे बाहर निकाला और अपने साथ ले जाने लगा. जब किशोरी की मां ने विरोध किया तो जवान नहीं माना और उसे लेकर अपने मामा के यहां चला गया.

इसके बाद मां ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को फोन पर दी. सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और किशोरी को जवान के मामा के घर से बरामद कर लिया.

पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है और दोनों के खिलाफ पुलिस ने धारा 363, 366, 457, 354, 34 व 7, 8 पॉक्सो एक्ट के तहत जुर्म दर्ज कर लिया है.