भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के निर्माण की दिशा में पहल करने पर राज्य सरकार उद्योगपतियों की हरसंभव सहायता करेगी। प्रदेश में खाद्य प्र-संस्करण, टेक्सटाईल, सौर ऊर्जा और अधोसंरचना निर्माण में पर्याप्त संभावनाएँ हैं। इससे बड़े पैमाने पर रोजगार सृजन भी होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में आज उद्योगपतियों से भेंट के दौरान यह बात कही।

सागर ग्रुप टेक्सटाईल और खाद्य प्र-संस्करण में निवेश का इच्छुक

मुख्यमंत्री श्री चौहान से भेंट में सागर ग्रुप के चेयरमेन श्री सुधीर कुमार अग्रवाल ने रायसेन जिले के ग्राम तामोट में 600 करोड़ रूपये की लागत से टेक्सटाईल और खाद्य प्र-संस्करण इकाइयाँ स्थापित करने संबंधी योजना पर चर्चा की। इन इकाइयों से 2 हजार 500 व्यक्तियों के लिए रोजगार सृजित होगा।

सोलर सेल का होगा निर्माण

गोल्डी सोलर प्राइवेट लिमिटेड के कैप्टन ईश्वर ढोलकिया ने प्रदेश में सोलर पावर प्लांट लगाने संबंधी प्रस्ताव रखा। उनकी सौर ऊर्जा उत्पादन में लगने वाली सोलर पैनल के लिये सोलर सेल उत्पादन की योजना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी आत्म-निर्भर भारत के निर्माण में निरंतर सक्रिय हैं। यह पहल इसमें सहायक होगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान से प्रतिभा सिंटेक्स के एम.डी. श्री श्रेयस्कर चौधरी और नेटलिंक के सी.ई.ओ. श्री अनुराग श्रीवास्तव ने भी भेंट की।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन श्री संजय शुक्ला और प्रमुख सचिव राजस्व, लोक सेवा प्रबंधन श्री मनीष रस्तोगी भी उपस्थित थे।