पंजाब में कोरोना पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। हालांकि सरकार ने इसे रोकने के लिए युद्ध स्तर प्रयास जारी किए हुए है। गुरुवार को राज्य में कोरोना वायरस के कारण पांचवीं मौत दर्ज की गई। एक अन्य व्यक्ति कोरोना वायरस की चपेट आ गया है। इसी के साथ प्रदेश में इस महामारी से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़कर 47 हो गई।
श्री हरमंदिर साहिब के पूर्व हजूरी रागी भाई निर्मल सिंह खालसा का गुरुवार को निधन हो गया। सेहत विभाग के अनुसार, भाई निर्मल सिंह खालसा की मृत्यु के बाद उनके परिवार के सदस्यों व दो अन्य लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। जालंधर के गांव लोहिया निवासी परिवार के पांच सदस्यों को बुधवार शाम को जालंधर सिविल अस्पताल लाया गया था।

इस बीच, जालंधर के सिविल अस्पताल में दाखिल एक महिला की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। उधर, होशियारपुर में एक पॉजिटिव केस सामने आया है। इस व्यक्ति के परिवार के सदस्य विदेश यात्रा से लौटे हैं। इसके साथ ही राज्य में कोरोना वायरस के मामलों की कुल संख्या 47 हो गई। इनमें से पांच लोगों की मौत हो चुकी है जबकि बाकी 42 लोग स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में हैं। 

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, अब तक राज्य में कोरोना वायरस के 1434 संदिग्ध मामलों की जांच की गई, जिनमें से 1236 लोगों के सैंपल नेगेटिव पाए गए हैं। अभी 151 लोगों की जांच रिपोर्ट का इंतजार है। पॉजिटिव और मृतकों के परिवार के सदस्यों को भी आइसोलेशन में रखा गया है। राज्य में कोरोना के सबसे ज्यादा 19 मामले नवांशहर में हैं। इसके अलावा मोहाली में 10, होशियारपुर में सात, जालंधर में पांच, लुधियाना में तीन, अमृतसर में दो और पटियाला में एक मामला सामने आया है।